Friday , December 15 2017

देश में गैरकानूनी हुआ कश्मीर के हक़ की बात करना?? केरल में प्रदर्शन कर रहे छात्र गिरफ्तार

केरल: आज की तारीख में सरकार के खिलाफ उठाना देशद्रोह करने के बराबर माना जाने लगा है और आपका मानवाधिकार के लिए लगाया गया एक भी नारा आपको जेल की सलाखों के भीतर पहुंचाने के लिए काफी है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करियेj

ऐसा ही वाकया हुआ है केरल के कन्नूर में जहाँ पुलिस ने कश्मीर में आम जनता पर हो रहे जुर्म के खिलाफ रोष प्रदर्शन कर सड़कों पर उतर कर नारेबाज़ी की। शांतिपूर्ण रोषप्रदर्शन और नारेबाजी की घटना का पता चलते ही पुलिस ने मौके पर पहुँच कर प्रदर्शन कर रहे लोगों में से 16 नौजवानों को देशविरोधी गतिविधियों में शामिल होने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया।

ऐसा नहीं है की देश की पुलिस ने ऐसी कार्यवाही पहली बार की हो। देश में जब से बीजेपी सरकार सत्ता में आई है तब से देश में सरकार अपने और अपनी नीतियों के खिलाफ उठने वाली हर आवाज़ का दम घोंटने पर लगी हुई है। ऐसे हालात बनाने की कोशिश की जा रही है कि देश का कोई भी नागरिक देश में फैली किसी भी अंधेरगर्दी के खिलाफ उठाने की सोचे भी न।

हिजबुल आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद से कश्मीर में जो हालात बेकाबू हुए हैं उन्हें काबू करने और लोगों को घरों के अंदर रखने के लिए सेना ने जो कदम उठाये हैं उनमें बहुत से कश्मीरियों की जानें गई हैं। ऐसे में कश्मीर से बाहर रह रहे भारतियों को जब वहां के हालातों की खबर मिलती है तो जाहिर सी बात है नागरिकों का गुस्सा भड़केगा ही और वो सड़कों पर नारेबाजी करने भी उतरेंगे। लेकिन देश में हालात अब वैसा नहीं रहा जैसी 2014 के चुनावों से पहले हुआ करता था।

TOPPOPULARRECENT