Saturday , December 16 2017

दोगले मोदी एक तरफ दलितों से हमदर्दी का ढोंग रच रहे और दूसरी तरफ आरक्षण छीनने की साजिश: मायावती

उत्तर प्रदेश में चुनावी प्रचार के सिलसिले में हर पार्टी धड़ाधड़ रैलियां करने में व्यस्त चल रही है। सहारनपुर की चुनावी रैली में बसपा सुप्रीमों मायावती ने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। मायावती ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि आरएसएस के एजेंडे पर चलते हुए वह आरक्षण को खत्म करने की कोशिशों में है क्योंकि यह कभी भी सरकार दलितों, किसानों की हितैषी नहीं थी। लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी ने गरीबों को कम दामों में राशन देने का वादा किया था लेकिन, इसके उलट उन्होंने गैस, पेट्रोल और रोजमर्रा की जरूरतों के सामान को महंगा कर दिया। जनता इस महंगाई की मार से मर रही है लेकिन मोदी सिर्फ उद्योगपतियों और पूंजीपतियों की सेवा करने में लगे हैं और उनके तलवे चाटने में लगे मोदी के पास कोई और चारा भी नहीं है क्योंकि वो इनकी ही वजह से केंद्र की सत्ता में आए हैं। इन उद्योगपतियों के बैंक से लिए हजारों- करोड़ों के कर्ज माफ़ करने वाले मोदी किसानों के बैंक से लिए गए कर्ज को क्यों नहीं माफ करते है? उन्हें तो मामूली रकम के लिए इतना परेशान किया जाता है कि वो आत्महत्या कर लेता है। मायावती ने बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस सवर्णों को आरक्षण देने का झूठा वादा कर रही है। कांग्रेस को अगर आरक्षण देना था उसने अपने शासनकाल में ऐसा क्यों नहीं किया? कांग्रेस इस मु्द्दे पर सिर्फ झूठ बोल रही है।

TOPPOPULARRECENT