Monday , December 18 2017

दो ट्रेनों का टकराव‌ टल गया

सियालदा रेलवे स्टेशन पर आज दो ट्रेनों का एक ही पटरी पर आमना सामना होगया लेकिन ख़ुशक़िस्मती से कोई बड़ा हादिसा रुनुमा होने से टल गया। वजह ये थी कि ट्रेनों की रफ़्तार बेहद धीमी थी और एक दूसरे के करीब पहुंचने तक रुक गई थीं।

सियालदा रेलवे स्टेशन पर आज दो ट्रेनों का एक ही पटरी पर आमना सामना होगया लेकिन ख़ुशक़िस्मती से कोई बड़ा हादिसा रुनुमा होने से टल गया। वजह ये थी कि ट्रेनों की रफ़्तार बेहद धीमी थी और एक दूसरे के करीब पहुंचने तक रुक गई थीं।

इस्टर्न रेलवे ज़राए ने बताया कि सियालदा। लाल गोला मुसाफ़िर ट्रेन ने स्टारटर सिगनल को नजरअंदाज़ करदिया। ये वाक़िया उस वक़्त हुआ जब ट्रेन प्लेटफार्म से बाहर निकल रही थी और उसी वक़्त बून गाव‌ लोकल दूसरी तरफ़ से प्लेटफार्म में दाख़िल होरही थी। इत्तिफ़ाक़ की बात ये है कि दोनों ट्रेनों की रफ़्तार धीमी थी वर्ना बहुत बड़ा हादिसा रुनुमा होसकता था।

इस्टर्न रेलवे सी पी आर ओ आर एन महापतरा ने ये बात बताई। ड्राईवर्स ने सूरत-ए-हाल की नज़ाकत को देखते हुए गाड़ी को फ़ौरन ब्रेक लगा दिए। ड्राईवर, अस्सिटैंट ड्राईवर और लाल गोल मुसाफ़िर ट्रेन के गार्ड को ख़िदमात से मुअत्तल करदिया गया है और दो ट्रेनों को एक ही पटरी पर चल्लाए जाने के वाक़िया की तहकीकात का हुक्म दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT