Monday , July 16 2018

दो दिन से घर से गायब था इम्तियाज

पटना में सीरियल धमाके मामले में जिस इम्तियाज को पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उसका घर धुर्वा थाना इलाक़े से सीटियो गांव में है। गुजिशता दो दिन से रांची से गायब था। उसके वालिद का नाम कमालुद्दीन है। इम्तियाज अपने छह भाइयों में पां

पटना में सीरियल धमाके मामले में जिस इम्तियाज को पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उसका घर धुर्वा थाना इलाक़े से सीटियो गांव में है। गुजिशता दो दिन से रांची से गायब था। उसके वालिद का नाम कमालुद्दीन है। इम्तियाज अपने छह भाइयों में पांचवें नंबर पर है। पुलिस ने इतवार को जब इम्तियाज के घर पर छापामारी की, तो घर से धमाका खेज़ मवाद बरामद किया गया।

छापामारी के दौरान पुलिस को पता चला कि उसके तमाम भाई अलग-अलग रहते हैं और एचइसी के लिए कई कामों से जुड़े हैं। पुलिस को इम्तियाज का एक भाई अख्तर मिला। पुलिस ने इम्तियाज के वालिद और भाई अख्तर को हिरासत में ले लिया है। दोनों से धुर्वा थाना में पूछताछ की जा रही है। पूछताछ में पुलिस को पता चला है कि इम्तियाज गुजिशता दो दिनों से गायब था। पुलिस उसके बारे में और जानकारी जुटाने में लगी हुई है।

धुर्वा थाना में वालिद कमालुद्दीन ने बताया कि वह उनसे और अपने भाइयों से अलग रहता था। क्या करता था, क्या नहीं करता था, इसकी वाज़ेह जानकारी किसी को नहीं है। सीटियो में छापामारी की खबर के बाद मीडिया के लोग पहले धुर्वा थाना पहुंचे। वहां से सभी रात में ही सीटियो गांव पहुंचे। सीटियो गांव में इम्तियाज के बारे में कोई भी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

इम्तियाज के बारे में जान कर गांववाले सकते में

यहां आकर जो पता चला, उससे गांव के तमाम लोग सकते में हैं। अब तक हममे से किसी को भी इस बात का कभी खद्सा नहीं हुआ कि इम्तियाज ऐसा भी कर सकता है। वह दहशतगर्द के रास्ते पर चल निकला है। थाना में मौजूद इम्तियाज के वालिद कमालउद्दीन ने बताया कि वह एचइसी से रिटायर्ड हैं। उसके तमाम बेटे एचइसी में ठेका का काम करते हैं।

तमाम बेटे एक ही घर में अलग-अलग रहते हैं। उनका (कमालउद्दीन) का घर थोड़ा दूर है। इस वजह से उन्हें नहीं पता कि इम्तियाज क्या-क्या करता था। सीटियो में इम्तियाज के घर में लोग मौजूद हैं। मीडिया अहलकार के पहुंचने पर किसी ने भी घर का दरवाजा नहीं खोला।

थाना में अफरा-तफरी का माहौल : इम्तियाज के घर छापामारी की खबर मिलने के बाद धुर्वा थाना में मीडिया अहलकारों का जमावड़ा लग गया। तमाम डिटेल जानना चाहते थे, लेकिन कोई भी कुछ बताने को तैयार नहीं था। गांव के लोग मीडिया अहलकारों के सवालों से परेशान इधर-उधर कट रहे थे। बहुत देर बाद हटिया डीएसपी निशा मुमरू ने इम्तियाज के घर छापामारी होने की तसदीक़ की।

TOPPOPULARRECENT