Monday , January 22 2018

धर्म राष्ट्र के आधार को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए: मोहन भागवत

नई दिल्ली 08 अक्टूबर: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि किसी को धर्म को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योंकि वह ‘‘राष्ट्र का आधार है।’’

भागवत ने कहा कि ‘‘किसी को अपने धर्म को नजरअंदाज नहीं करना और देश परिवार के सिद्धांत पर चलता है भारत में परिवार की संकल्पना अनूठी है।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय दर्शन और संस्कृति देश की बहुलता में एकता पर बहुत कुछ कहती हैं।

उन्होंने कहा कि हजारों वर्ष पहले भारत दुनिया के सर्वश्रेष्ठ देशों में से था, लेकिन विदेशी शासनों के कारण वह निचले पायदान पर पहुंच गया।

 

TOPPOPULARRECENT