Friday , December 15 2017

धवन को उछाल लेती गेंदों के ख़िलाफ़ मेहनत की ज़रूत : गवासकर

हिंदुस्तानी क्रिकेट टीम के दौरा-ए-न्यूज़ीलैंड के नाकामी पर मायूसी का इज़हार करते हुए साबिक़ कप्तान और मौजूदा कामंटेटर सुनील गवासकर ने कहा कि पहले वन्डे में हिंदुस्तान को मात देने में मेज़बान ऑल राउंडर‌ जेम्स कोरे एंडरसन का मुज़ाह

हिंदुस्तानी क्रिकेट टीम के दौरा-ए-न्यूज़ीलैंड के नाकामी पर मायूसी का इज़हार करते हुए साबिक़ कप्तान और मौजूदा कामंटेटर सुनील गवासकर ने कहा कि पहले वन्डे में हिंदुस्तान को मात देने में मेज़बान ऑल राउंडर‌ जेम्स कोरे एंडरसन का मुज़ाहरा मुतास्सिरकुन‌ रहा|

उन्होंने पहले बैटिंग में तेज़ रफ़्तार रन‌ स्कोर किए जिसके बाद कामयाब बौलिंग का मुज़ाहरा किया और इस तरह एंडरसन आई पी एल 7 में जब खिलाड़ियों की नीलामी होगी तो ऑल राउंडर‌ सभी की तवज्जो का मर्कज़ होंगे। सुनील् गवासकर हिंदुस्तानी खिलाड़ियों के मुज़ाहिरों पर काफ़ी नाराज़ भी देखाई दिए।

गवासकर की नाराज़गी का अंदाज़ा पहले वन्डे के बाद तहरीर करदा उनके मज़मून से लगाया जा सकता है जिस में गवासकर ने ओपनर शिखर धवन और रोहित शर्मा से मांग‌ किया है कि वो बेहतर मुज़ाहरा करें। गवासकर के मुताबिक‌ रोहित ख़ुद अपने मसाइल में इज़ाफ़ा कर रहे हैं। उन्हें चाहिए कि वो अपने बैट से बेहतर मुज़ाहरा करते हुए ख़ुद को बैरूनी विकटों पर भी एक बेहतर ओपनर साबित करें क्योंकि मुहतात और दिफ़ाई हिक्मत-ए-अमली से वो मुखालिफ‌ बोलरों को ख़ुद पर हावी होने का मौक़ा दे रहे हैं।

हिंदुस्तानी विकटों पर इंतिहाई कामयाब तरीन ओपनर की शक्ल में उभरने वाले धवन को साबिक़ कप्तान और ओपनर गवासकर ने मश्वरा दिया कि वो उछाल लेती गेंदों के ख़िलाफ़ बहुत ज़्यादा प्राक्टिस करें क्योंकि ये गेंदें उन्हें काफ़ी परेशान कर रही हैं। गवासकर के मुताबिक‌ चूँकि धवन टीम के ओपनर हैं और बोलर्स उनके लिए उछाल लेती गेंदों के साथ ही मैदान का रुख़ करेंगे लिहाज़ा उन्हें इन गेंदों की आदत और इसके ख़िलाफ़ बेहतर मुज़ाहरा के लिए सख़्त मश्क़ की ज़रूरत है।

TOPPOPULARRECENT