Wednesday , December 13 2017

धोनी का आबाई शहर में पहला मुकाबला स्कूल की नेक तमन्नाए

रांची। 17 जनवरी हिन्दूस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी अपने आबाई शहर में पहले बैन-उल-अक़वामी मुक़ाबले में शिरकत करेंगे और उनके स्कूल जवाहर विद्या मंदिर ने मंसूबा बनाया है कि 1999-ए-बयाच में कामयाबी हासिल करने वाले अपने तालिब-ए-इल्म (धोनी) के लिए नेक तमन्नाऔ का इज़हार करें।

जवाहर विद्या मंदिर के पाँच हज़ार तलबा और 225 तदरीसी अमला अपनी नेक ख़ाहिशात के पैग़ामात धोनी की बहन जयंती गुप्ता के ज़रीये अपने स्कूल के साबिक़ तालिब-ए-इल्म तक पहूँचाएंगे और इत्तिफ़ाक़ से जयंती गुप्ता इसी स्कूल की प्राइमरी टीचर हैं। स्कूल के प्रिंसिपल डी आर सिंह ने ख़बररसां एजैंसी पी टी आई से इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि बदक़िस्मती से टिक्टों की ग़ैरमामूली मांग है और 19 जनवरी को यहां मुनाक़िद शुदणी मुक़ाबले के लिए हम मैदान में नहीं पहूंचसके,ताहम हम ने अपनी नेक तमन्नाएं धोनी की बहन के ज़रीया अपने कप्तान को रवाना कररहे हैं।

उन्होंने मज़ीद कहा कि हमारे लिए ये इंतिहाई फ़ख़र का लम्हा है कि हमारे स्कूल के बच्चे ने मुल्क का नाम रोशन किया है। अलावा अज़ीं ये शहर के लिए एक यादगार लम्हा होगा जब धोनी यहां पर एक्शण में नज़र आयेंगे। स्कूल के प्रिंसिपल ने इस उमीद का इज़हार भी किया है कि ध्वनि ने बेहतर मुज़ाहरे के ज़रीये यहां हिन्दूस्तानी की कामयाबी में अहम रोल अदा करेंगे। याद रहे कि रवां सीरीज़ के मुक़ाबले में कामयाबी के बाद इंगलैंड ने सबक़त हासिल करली थी लेकिन कूची में हिन्दूस्तानी टीम ने कामयाबी के ज़रीये सीरीज़ को 1-1 से बराबर कर दिया है।

TOPPOPULARRECENT