Wednesday , December 13 2017

नई दस्तूर में पार्लीमैंट का किरदार : मिस्री फ़ौजी ओहदेदार

क़ाहिरा 12 दिसमबर (राइटर्स) फ़ौज ने कहा कि सिर्फ पार्लीमैंट ही दस्तूर साज़ असम्बली काइंतिख़ाब करेगी। इस पयाम से मालूम होता है कि फ़ौजी जनरलों ने अपने साबिक़ा ब्यानात से दसतबरदारी इख़तियार करली है जिस में कहा गया था कि इस्लाम पसं

क़ाहिरा 12 दिसमबर (राइटर्स) फ़ौज ने कहा कि सिर्फ पार्लीमैंट ही दस्तूर साज़ असम्बली काइंतिख़ाब करेगी। इस पयाम से मालूम होता है कि फ़ौजी जनरलों ने अपने साबिक़ा ब्यानात से दसतबरदारी इख़तियार करली है जिस में कहा गया था कि इस्लाम पसंद और दीगर अफ़राद के इलावा ग़ैर मुंतख़बा इदारों का भी इंतिख़ाब के अमल में अहम किरदार होगा। पार्लीमैंट में उबूरी दस्तूर के तेहत 100 अरकान पर मुश्तमिल असम्बली के इंतिख़ाबात का अहम किरदार है जो नया दस्तूर तहरीर करेगा।

ये दस्तूर हसनी मुबारक के दौर के दस्तूर की जगह लेगा। गुज़श्ता हफ़्ता फ़ौजी जनरलों ने तजवीज़ पेश की थी कि पार्लीमैंट का किरदार कमज़ोर करदिया जाएगा। जबकि फ़ौज की ताईदी काबीना मुशावरती इदारे में शामिल होगी।

TOPPOPULARRECENT