Saturday , December 16 2017

नए कमिशनर महिकमा आयूष डाक्टर के पी श्रीवासू की का ओ बी ए और यू ऐम ओ की जानिब से ख़ैर म‌क़द्दम

हैदराबाद । २०सितंबर : ( प्रैस नोट ) : डाक्टर नयाज़ अहमद ख़ान सदर ओलड ब्वॉयज़ एसोसी उष्ण-ओ-मैंबर डीवलपमनट कमेटी गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज-ओ-सदर शिफ़ाख़ाना चारमीनार और डाक्टर ए ए ख़ान रियास्ती सदर यूनानी मैडीकल आर्गेनाईज़ेश

हैदराबाद । २०सितंबर : ( प्रैस नोट ) : डाक्टर नयाज़ अहमद ख़ान सदर ओलड ब्वॉयज़ एसोसी उष्ण-ओ-मैंबर डीवलपमनट कमेटी गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज-ओ-सदर शिफ़ाख़ाना चारमीनार और डाक्टर ए ए ख़ान रियास्ती सदर यूनानी मैडीकल आर्गेनाईज़ेशन ने एक सहाफ़ती ब्यान जारी करते हुए बताया कि डाक्टर के पी सिरीवा सू की आई यफ़ यस के बहैसीयत नए कमिशनर महिकमा आयूष तक़र्रुर होने पर उन की क़ियादत में दोनों तंज़ीमों के अराकीन का एक वफ़द जिसमें यूनानी मैडीकल आर्गेनाईज़ेशन के डाक्टर मुहम्मद मुकर्रम , डाक्टर यम ए फ़हीम , डाक्टर ए साद उल्लाह ख़ान, डाक्टर प्रवीण सुलताना और ओलड ब्वॉयज़ एसोसी उष्ण गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज चारमीनार हैदराबाद के मोतमिद डाक्टर ज़ीन इला बदीन ख़ान शामिल थे

ने डाक्टर के पी सिरीवा सू की नए कमिशनर महिकमा आयूष से मुलाक़ात कर के गुलदस्ता पेश किया और गलपोशी करते हुए ख़ौरमक़दम किया। डाक्टर नयाज़ अहमद ख़ां ने यूनानी की तरक़्क़ी में रुकावट शूदा मसाइल को तफ़सील से वाक़िफ़ करवाया और कहा कि इन मसाइल की यकसूई के लिए गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज-ओ-सदर शिफ़ाख़ाना चारमीनार का दौरा करने की दावत दी । जिस पर कमिशनर महिकमा आयूष ने इत्तिफ़ाक़ ज़ाहिर किया है ।

डाक्टर ए ए ख़ान ने बताया कि जनवरी 2012 में हुकूमत की जानिब से 77 यूनानी मैडीकल ऑफीसरस की रैगूलर मख़लवा जायदादों पर तक़र्रुत के लिए अहकामात जारी करने के बावजूद तक़र्रुत अमल में नहीं लाए गए जबकि आयूर्वेद और होमीव के तक़र्रुत फ़ौरी कर दिए गए ।

इस में ताख़ीर करने से यूनानी डॉक्टर्स में बेचैनी देखी जा रही ही। गुज़शता 25 साल से यूनानी मैडीकल ऑफीसरस की सिर्फ (84 ) मंज़ूर शूदा जायदादें हैं इन में इज़ाफ़ा ना करने से भी मुलाज़मत के मवाक़े नहीं हैं, दवा ख़ानों को अपग्रेड करने का मुतालिबा किया गया, हज और उमरा जाने के ख़ाहिशमंद डॉक्टर्स क्वीन ओ सी देने में तसाहुल और लापरवाही बरती जार ही ही, यन आर हीच यम तीसरे मरहला में मुंतख़ब शूदा मैडीकल ऑफीसरस की फ़हरिस्त का ऐलान दो साल का अर्सा गुज़रने के बावजूद नहीं किया जा रहा ही।

14 शाबा-ए-जात में असातिज़ा को तरक़्क़ी देते हुए माबाक़ी मख़लवा जायदादों पर फ़ौरी तक़र्रुत अमल में लानी, साबिक़ा कमिशनर की जानिब से कमिशनर महिकमा आयूष से मिलने के औक़ात बरोज़ पैर और हफ़्ता मुक़र्रर किया गया है वो तकलीफ़देह है इस को कलादम करते हुए पहले की तरह हर दिन मिलने की सहूलत बहाल करने और ए पी यूनानी मैडीकल ऑफीसरस एसोसी उष्ण का दो साला मीयाद 29 मई012 को ख़तन हो चुकी है नए इंतिख़ाबात करवाने के लिए गुज़शता 6 माह से नुमाइंदगी की जा रही है लेकिन साबिक़ा कमिशनर ने उम्दन इस मसला को बरफ़दान में रखा था , फ़ौरी इंतिख़ाबात करवाने केलिए भी नुमाइंदगी की गई।

डाक्टर सय्यद ज़ीन इला बदीन ख़ान मोतमिद ओलड ब्वॉयज़ एसोसी उष्ण गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज-ओ-सदर शिफ़ाख़ाना चारमीनार ने बताया कि निज़ामीया सदर शिफ़ाख़ाना की मुनहदिम शूदा दीवार की अज़ सर-ए-नौ तामीर का जो काम जारी है वहां पर सड़क की कुशादगी अमल में लाई गई है वहां पर दीवार के साथ शजर कारी का मुतालिबा किया।

डाक्टर के पी सिरीवा सू की कमिशनर महिकमा आयूष ने इन तमाम मसाइल की बला किसी ताख़ीर यकसूई करने का तीक़न दिया और कहा कि कोई भी फाईल पिंडिंग में नहीं रखी जाएगी। डाक्टर नयाज़ अहमद ख़ान सदर ओलड ब्वॉयज़ एसोसी उष्ण-ओ-मैंबर डीवलपमनट कमेटी गर्वनमैंट निज़ामीया तिब्बी कॉलिज-ओ-सदर शिफ़ाख़ाना चारमीनार ने डाक्टर के पी सिरीवा सू की
कमिशनर महिकमा आयूष का शुक्रिया अदा किया।

TOPPOPULARRECENT