Monday , June 18 2018

नए ट्रांसमिशन के जरिया हिंदुस्तान से बंगलादेश को आज से बिज्ली सरबराही का आग़ाज़

हिंदुस्तान अपने पड़ोसी मुल्क बंगलादेश के साथ दो रुख़ी तआवुन में पेशरफ्त करते हुए कल से बंगलादेश को बर्क़ी सरबराही का आग़ाज़ करेगा जिस केलिए दोनों ममालिक के दरमयान नई ट्रांसमिशन लाईन भी तैयार की गई है।

हिंदुस्तान अपने पड़ोसी मुल्क बंगलादेश के साथ दो रुख़ी तआवुन में पेशरफ्त करते हुए कल से बंगलादेश को बर्क़ी सरबराही का आग़ाज़ करेगा जिस केलिए दोनों ममालिक के दरमयान नई ट्रांसमिशन लाईन भी तैयार की गई है।

मज़कूरा प्रोजेक्ट को माली तआवुन देने वाली एशियन डवलप्मेंट बैंक (ADB) ने एक अहम बयान जारी करते हुए कहा कि कल का दिन हिंद-बंगलादेश की तारीख़ में एक यादगार दिन होगा, क्योंकि एक नई ट्रांसमिशन लाईन के ज़रिया हिंदुस्तान से बंगलादेश को बर्क़ी सरबराही की जाएगी। जो जुनूबी एशिया में अपनी नौईयत का पहला हाई वोल्टेज डायरेक्ट करंट (HVDC) इंटर कनैक्शन होगा।

याद रहेगा कि गुजिश्ता साल एन टी पी सी वदीअत ब्यापारनगम लिमिटेड जो बर्क़ी पैदा करनेवाली एन टी पी सी का तिजारती विंग है और बंगलादेश पावर डवलप्मेंट बोर्ड (BPDB) के दरमयान बिजली की ख़रीदारी के एक मुआहिदा को क़तईयत दी गई थी जिसके ज़रिया अब ट्रांसमिशन लाईन के ज़रिया हिंदुस्तान के मशरिक़ी तवानाई ग्रेड को बंगलादेश के मग़रिबी तवानाई ग्रेड से मरबूत किया जाएगा।

सब स्टेशन की तंसीब की ट्रांसमिशन का सिलसिला माह सितंबर के पहले हफ्ते से जारी है जब कि इंटर कनैक्शन 5 अक्टूबर से कारकरद होजाएगा। ये हुकूमत से हुकूमत मुआहिदा है जिसका आज‌ से आग़ाज़ होरहा है। ए डी बी ने अपने बयान में कहा कि आग़ाज़ में नवंबर 2013 तक 250 मैगावाट बिजली की पैदावार की जाएगी जब कि जारीया साल के खत्म‌ तक मज़ीद 250 मेगावाट का इज़ाफ़ा किया जाएगा जबकि मज़ीद इज़ाफ़ा करते हुए उसकी गुंजाइश 1000 मैगावाट तक भी की जा सकती है।

इस मुआहिदा के ज़रीया बंगलादेश को हिंदुस्तान से कम क़ीमत पर तवानाई बिज्ली ख़रीदारी की सहूलत दस्तयाब रहेगी जबकि बंगलादेश में ही मौजूद रेंटल प्लांटस से हासिल की जाने वाली बिज्ली बंगलादेश केलिए महंगी साबित होरही है।

TOPPOPULARRECENT