Thursday , November 23 2017
Home / Bihar News / नए नोट नहीं देने पर अस्पताल ने नवजात के शव को बनाया बंधक

नए नोट नहीं देने पर अस्पताल ने नवजात के शव को बनाया बंधक

पटना: नोटबंदी के चलते पटना में एक नक नौवजात बच्चे के शव को बंधक बनाए जानी घटना सामने आई है। इलाज के लिए नए नोट नहीं देने पर अस्पताल वालों ने एक नवजात बच्चे के शव को बंधक बना लिया। घटना पटना के पत्रकार नगर इलाके की है।

मंगलवार को ऑरचिड अस्पताल ने एक नवजात के शव को सिर्फ इसलिए बंधक बना लिया क्योंकि उसके पिता के पास देने के लिए नए नोट नहीं थे। लाचार पिता ने अस्पताल प्रशासन के मदद की गुहार लगाई मगर किसी ने उसकी एक न सुनी। पुलिस के आने तक नवजात के शव को अस्पताल वालों ने घंटों बंधक बनाए रखा।

नेटवर्क 18 के मुताबिक, गोपालगंज जिले के रहनेवाले सत्येंद्र अपने नवजात बच्चे की तबियत बिगड़ने पर उसे 26 नवंबर को पटना के ऑरचिड अस्पताल लेकर आए थे। सोमवार को अस्पताल वालों ने पैसा जमा करने को कहा। सत्येंद्र के पास पुराने नोट थे। अस्पताल वालों ने उनसे कहा कि पुराने नोट नहीं लिया जाएगा, वो नए नोट लेकर आएं। उसके बाद अस्पताल वालों ने बच्चे का इलाज बंद कर दिया। इसके चलते मंगलवार को बच्चे की मौत हो गई।
vlcsnap-2016-11-29-17h27m28s033

सत्येंद्र ने नए नोटों के लिए काफी दौर-धूप किया मगर पैसे का इंतेजाम नहीं हो सका। बच्चे की मौत के उन्होंने अस्पताल के मालिक से मदद मांगी मगर उसने तरस नहीं खाई। उसके बाद थक-हारकर उन्होंने पुलिस और मीडियासे मदद मांगी। उसके बाद दोनों के तरफ से हस्क्षेप किया गया तब जाकर शव को छुड़वाया जा सका। पुलिस का कहना है कि पैसे की कमी के कारण अस्पताल ने ऐसा बरताव किया है। लेकिन पूरे मामले की जांच की जा रही है उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT