Sunday , December 17 2017

नकली नोट के साथ नौजवान गिरफ्तार

जोगबनी वाक़ेय भारतीय स्टेट बैंक में 500 के दस जाली नोटों के साथ जोगबनी हाजी मुहल्ला रिहायसी तमजीत अंसारी को जोगबनी पुलिस ने हिरासत में लिया है। नौजवान सनीचर को बैंक में रुपया जमा करने गया था।

जोगबनी वाक़ेय भारतीय स्टेट बैंक में 500 के दस जाली नोटों के साथ जोगबनी हाजी मुहल्ला रिहायसी तमजीत अंसारी को जोगबनी पुलिस ने हिरासत में लिया है। नौजवान सनीचर को बैंक में रुपया जमा करने गया था।

जानकारी के मुताबिक तमजीत अंसारी अपने भाई तौकीर अंसारी के खाता नंबर 30781236273 में तीस हजार रुपये जमा करने गया था। जब उसने रुपये बैंक में जमा के लिए कैशियर को दिए तो उसमें 500 के दस नोट जाली मिले। इस पर कैशियर ने ख़ुफ़िया तौर से यह इत्तेला अपने ऑफिसर को दी और ऑफिसर ने पुलिस को बुलाकर नौजवान को उनके हवाले कर दिया। इस सिलसिले में थाना इंचार्ज टीपी सिंह ने बताया कि नौजवान की तरफ से तीस हजार रुपये जमा करने गया था उसके पास 500 के 60 नोट थे। जिसमें जाली नोटों को दरमियान में वक्फा में लगा कर रखा था।

हालांकि नौजवान का कहना है कि उसने यह रुपया नेपाल वाक़ेय मनी एक्सचेंज काउंटर से नेपाली करेंसी के बदले भारतीय करेंसी लिया था। बताया कि नौजवान का भाई जिसके नाम से खाता है की साइकिल की दुकान है। उन्होंने कहा कि इसके खाता का जब डिटेल निकाला गया तो जुलाई की शुरूआत में 1215 रुपये थे लेकिन कल सनीचर तक में इसमें 2,39515 रूपये इन्ख्ला और 2,39159 जमा हुए हैं। उन्होंने कहा कि बैंक अहलकार के दरख्वास्त पर जोगबनी थाना कांड 61/13 भादवि 489 बी/489 सी 34 दर्ज कर नौजवान को जेल भेज दिया गया। उन्होंने कहा कि पुलिस तमाम नुक़तों पर छानबीन करते हुए उसके खाता की ताफ्सिश भी कर रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस जाली नोट के कारोबारियों पर नकेल के लिए तफ़्सिलि ताफ्सिश शुरू कर दी है। जल्द ही इस मामले का पर्दाफाश होगा।

मालूम हो कि भारत नेपाल खुली सरहद से बड़े पैमाने पर जाली नोट के कारोबारी सरगर्म हैं। इससे पहले भी एसएसबी की तरफ से 50 हजार के जाली नोटों के साथ नौजवान को गिरफ्तार किया था। इसके बावजूद सरहद की हिफाज़त नहीं के बराबर है।

TOPPOPULARRECENT