Sunday , February 18 2018

नक़ल नवीसी के ख़ातमे के लिए महाराष्ट्रा में मुहिम‌

देगलूर, 05 मार्च: देगलूर शहर के एक क़स्बा देहात सर्क‌ल में एस एस सी इमतिहान सेंटर लोकमान्य तिलक हाई स्कूल-ओ-जूनियर कॉलेज में 218 तलबा और‌ तालिबात ने हिस्सा लिया जिस में 215 तलबा‍ -ओ- तालिबात हाज़िर रहे। लोकमान्य तिलक हाई स्कूल-ओ-जूनियर कॉले

देगलूर, 05 मार्च: देगलूर शहर के एक क़स्बा देहात सर्क‌ल में एस एस सी इमतिहान सेंटर लोकमान्य तिलक हाई स्कूल-ओ-जूनियर कॉलेज में 218 तलबा और‌ तालिबात ने हिस्सा लिया जिस में 215 तलबा‍ -ओ- तालिबात हाज़िर रहे। लोकमान्य तिलक हाई स्कूल-ओ-जूनियर कॉलेज के सदर मुदर्रिस पी ए मौर्य ने तमाम असातिज़ा को अहम मालूमात दी। कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर, लातूर डिप्टी डायरेक्टर के भेजी गई मालूमात से वाक़िफ़ कराया, कहा कि नक़ल नवीसी ख़त्म करने के लिए पूरे महाराष्ट्रा में मुहिम चलाई जा रही है। डा. परदेसी ने ज़िला नक़ल नवीसी ख़त्म करने के लिए बेड़ा उठाया था और पूरे महाराष्ट्रा में हुकूमत ने मज़बूत क़दम उठाकर तलबा में ख़ुद एतिमादी और अच्छी तालीम-ओ‍तर्बियत हो, इस के लिए नक़ल नवीसी के ख़िलाफ़ मुहिम चलाई गई जिस का बेहतर नतीजा मेरे आप के सामने है।

लोकमान्य तिलक के सदर मुदर्रिस पी ए मौर्य ने कहा कि तलबा‍ -ओ-तालिबात को मुकम्मल तरीक़े से हाल में चैक कर छोड़ा जाएगा और कहा कि नक़ल नवीसी करने वाले तलबा पर सख़्त कार्रवाई की जाएगी। महसूल खाते के ऑफीसर ने कहा कि लोकमान्य तिलक हाई स्कूल के सदर मुदर्रिस पी ए मौर्य ने तलबा-ओ-तालिबात को बैठने के लिए एक कुर्सी और टेबल का इंतिज़ाम किया। बेहतर इंतिज़ाम और तलबा को अलेहदा बैठा देख कर महसूल खाते के करदा वार ने ख़ुशी और‌ मुसर्रत का इज़हार किया।

केंद्र प्रमुख मौर्य ने असातिज़ा को हर हाल में एक बिसलरी बॉटल, पानी दिए और तलबा‍ए-ओ-तालिबात के हाल में हर 15 मिनट चक्कर लगाते गए। डी आर मौर्य ने कहा कि 10 हाल बनाए गए और बाहर से आए हुए पशहक के बी सन्जे और बी जी कमभार और रणवीर कर गशत लगाए दिखाई दिए। मरहटी पर्चे में 215 तलबा-ओ-तालिबात के पास एक भी नक़ल दस्तियाब नहीं हुई। 100 फ़ीसद नक़ल नवीसी का लोकमान्य तिलक हाई स्कूल में ख़ातमा होगया। नक़ल नाम की चीज़ सेंटर पर दिखाई नहीं दी।

पूरे सेंटर में नज़म-ओ-ज़बत देखा गया। पुलिस का बेहतर बंद-ओ-बस्त था और बाहर कोई शख़्स भी दिखाई नहीं दिया। सिर्फ़ तलबा-ओ-तालिबात लिखने में मसरूफ़ थे। गर्दा वार के बी ने सदर मुदर्रिस मौर्य सर को मुबारकबाद दी।

TOPPOPULARRECENT