नक्सलाइटस से मुतास्सिरा इलाक़ों में तरक़्क़ियाती मंसूबे

नक्सलाइटस से मुतास्सिरा इलाक़ों में तरक़्क़ियाती मंसूबे
नई दिल्ली

नई दिल्ली

नक्सलाइटस से मुतास्सिरा इलाक़ों में तरक़्क़ियाती सरगर्मियों को फ़रोग़ देने और अस्करीयत पसंदों को समाजी घेरे में लाने के लिये हुकूमत मुम्किना कोशिश में है। लोक सभा में आज ये इत्तेला दी गई एक सवाल का जवाब देते हुए मुमलिकती वज़ीरे दाख़िला हरी भाई प्रति भाई चौधरी ने बताया कि मुल्क भर में बाएं बाज़ू की इंतेहापसंदी से मुतास्सिरा 106 अज़ला में मर्कज़ी ने सिक्योरिटी और तरक़्क़ियाती मंसूबों पर 9000 करोड़ रुपये ख़र्च किए हैं।

उन्होंने कहा कि हुकूमत ने हाल ही में नक्सलाइटस से मुतास्सिरा 6 रियासतों का इजलास मुनाक़िद किया था ताकि मुतास्सिरा इलाक़ों में तरक़्क़ी की वाहिद पॉलीसी तय्यार की जा सके । उन्होंने कहा कि फ़िलहाल मरबूत मंसूबा अमल नाफ़िज़ करने की कोई तजवीज़ नहीं है जिस के ज़रिए विज़ारत-ए-दाख़िला की निगरानी में तरक़ियात सरगर्मियां अंजाम दी जा सकती हैं। ख़ुद सुपुर्द नक्सलाइटस के लिये बाज़ आबादकारी पैकेज पर मर्कज़ी वज़ीर ने कहा कि ये पॉलीसी रियासती हुकूमत के दायराकार में आती है और ख़ुद सुपुर्द नक्सलाइटस को 2.5 लाख रुपये फ़राहम किए जाते हैं।

Top Stories