Friday , December 15 2017

नक्सली कब्जे में दो दर्जन बच्चे

लोहरदगा जिले के सेन्हा व किस्को व गुमला जिले के बिशुनपुर इलाक़े के दो दर्जन बच्चे नक्सलियों के कब्जे में हैं। माओवादी जोनल कमांडर नकुल यादव के दस्ते ने गाँव वालों को डरा-धमका कर बच्चों को तंजीम में शामिल करने के लिए अपने पास बुलाया

लोहरदगा जिले के सेन्हा व किस्को व गुमला जिले के बिशुनपुर इलाक़े के दो दर्जन बच्चे नक्सलियों के कब्जे में हैं। माओवादी जोनल कमांडर नकुल यादव के दस्ते ने गाँव वालों को डरा-धमका कर बच्चों को तंजीम में शामिल करने के लिए अपने पास बुलाया है। नक्सलियों की इस कार्रवाई की जानकारी पुलिस हेड क्वार्टर को भी है।

सप्ताह भर पहले सीनियर अफसरों की बैठक भी हुई थी, जिसमें नक्सलियों के खिलाफ मुहिम चलाने पर गौर किया गया। पुलिस को मिली खबर के मुताबिक, माओवादियों ने तीनों थाना इलाक़े के हर गांव से पांच-पांच बच्चों की मांग की है। जिस गांव के लोगों ने तंजीम में अपने बच्चों को नहीं भेजा है, उस गांव को जोनल कमांडर नकुल यादव की तरफ से बैन किया जा रहा है। ऐसे गांव के लोगों से कहा गया है कि वह इस साल अपने खेतों में अनाज नहीं लगायें। माओवादियों ने ऐसे गांव के लोगों को जंगल में जाने पर भी बैन लगा दिया है। दोनों जिलों की पुलिस को इस बात की भी खबर है कि माओवादियों की तरफ से बच्चों को तंजीम में शामिल करने के लिए गाँव वालों से मारपीट भी की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT