नज़म-ओ-नसक़(प्रबन्ध/बन्दॊबस्त‌) आम्मा (सार्वजनिक‌)में सलाहीयतों की तलाश हैदराबाद में कान्फ़्रैंस

नज़म-ओ-नसक़(प्रबन्ध/बन्दॊबस्त‌) आम्मा (सार्वजनिक‌)में सलाहीयतों की तलाश हैदराबाद में कान्फ़्रैंस
हैदराबाद २२अक्टूबर (सियासत न्यूज़ )मुल्क भर में पहली मर्तबा अपनी नौईयत की मुनफ़रद अवामी नज़म-ओ-नसक़ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में सलाहीयतों की तलाश केलिए आठवीं इंटरनैशनल कान्फ़्रैंस ऑन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन 25 ता 27 अक्टूबर हैदराब

हैदराबाद २२अक्टूबर (सियासत न्यूज़ )मुल्क भर में पहली मर्तबा अपनी नौईयत की मुनफ़रद अवामी नज़म-ओ-नसक़ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में सलाहीयतों की तलाश केलिए आठवीं इंटरनैशनल कान्फ़्रैंस ऑन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन 25 ता 27 अक्टूबर हैदराबाद में मुनाक़िद होगी और इस कान्फ़्रैंस का इनइक़ाद उस्मानिया यूनीवर्सिटी केलिए एक बहुत बड़ा एज़ाज़ है क्योंकि हिंदूस्तान में इस नौईयत की बैन-उल-अक़वामी(अँर्तराष्ट्रीय‌) सतही कान्फ़्रैंस पहली मर्तबा उस्मानिया यूनीवर्सिटी शईह पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन के ज़ेर-ए-एहतिमाम हैदराबाद में मुनाक़िद की जा रही है । इस बैन-उल-अक़वामी(अँर्तराष्ट्रीय‌) सतही कान्फ़्रैंस में बैरूनी ममालिक की 75 अहम तरीन यूनीवर्सिटीयों से 120 मंदूबीन और अंदरून-ए-मुल्क 27 यूनीवर्सिटीयों से 150 मंदूबीन शिरकत करेंगे ।

रियास्ती डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर दामोदर राज नरसिम्हा इस बैन-उल-अक़वामी कान्फ़्रैंस में बहैसीयत मेहमान ख़ुसूसी शिरकत करेंगे । आज यहां प्रोफ़ैसर वाई रामा कृष्णा प्रोफ़ैसर पार्था सारथी ,प्रोफ़ैसर री बीनज़(अमरीका ) के हमराह अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए प्रोफ़ैसर ऐस सत्य ना रावना ,वायस चांसलर उस्मानिया यूनीवर्सिटी-ओ-सदर नेशन लोकल आर्गेनाईज़िंग कमेटी ICPA 2012हैदराबाद ने ये बात बताई ।

और कहा कि इस आलमी नौईयत की पहली कान्फ़्रैंस का साल 2005 में चीन में इनइक़ाद अमल में लाया गया था । उन्हों ने कहा कि इस आलमी कान्फ़्रैंस केलिए मुख़्तलिफ़ ममालिक की यूनीवर्सिटीयों-ओ-मुल़्क की मुख़्तलिफ़ यूनीवर्सिटीयों से जुमला 350 मक़ाले वसूल हुए थे लेकिन इन का मुकम्मल जांच वग़ैरा के बाद सिर्फ 120पेपर्स (मुक़ाबलों ) का ही इंतिख़ाब किया गया ।

प्रोफ़ैसर ऐस सत्य ना रावना ने बताया कि इस कान्फ़्रैंस में माहिरीन तालीम हुकूमत और सनअती शोबों से ताल्लुक़ रखने वाले नुमाइंदों को पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन के उमूर-ओ-मसाइल पर ग़ौर-ओ-बेहस केलिए एक फ़ूम फ़राहम करेगी और ये कान्फ़्रैंस इंसानी वसाइल क़ियादत-ओ-इंतिज़ामीया अवामी ख़िदमत और सकीवरीटी निज़ाम के इलावा अख़लाक़ीयात वीकजहती और इन्फ़ार्मेशन टैक्नालोजी जैसे शोबों पर तवज्जा (ध्यान‌)मर्कूज़ करेगी ।

उन्हों ने कहा कि चीन की अलकटरानक साईंस-ओ-टैक्नालोजी यूनीवर्सिटी अमरीकी सोसाइटी बराए नज़म-ओ-नसक़ आम्मा ,चीनी पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन जर्नल ,अडमनसटरीटीव स्टाफ़ कॉलिज-ओ-उस्मानिया यूनीवर्सिटी मुशतर्का तौर पर इस कान्फ़्रैंस का एहतिमाम (व्यवस्था)कर रही हैं ।

Top Stories