Tuesday , July 17 2018

‘नजीब-नजीब’ के नारों से गूंजा संसद मार्ग थाना

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर के बाहर प्रदर्शन करने जा रहे बड़ी संख्या में जेएनयू के छात्रों को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया है. सभी प्रदर्शनकारियों को बस में भरकर संसद मार्ग थाने ले जाया गया है. 6 दिन से लापता छात्र नजीब की वापसी के लिए संसद मार्ग थाने में भी नारेबाज़ी की गई है. प्रदर्शनकारियों में स्टूडेंट यूनियन और वाम संगठनों के अलावा बड़ी संख्या में सामान्य छात्र भी शामिल हैं.

हिरासत में लिए जाने के बाद जेएनयू छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष शहला राशिद ने अपने फेसबुक हैंडल पर लिखा, ‘नजीब के लिए इंसाफ़ मांगने वालों को हिरासत में लिया, गाल दी और अब संसद मार्ग थाने लाया गया है. दिल्ली पुलिस और मोदी सरकार शर्म करो’.

इस मार्च में में शामिल होने से पहले शहला ने लिखा था, ‘ज़ुल्मी जब-जब ज़ुल्म करेगा सत्ता के हथियारों से, चप्पा चप्पा गूंज उठेगा नजीब-नजीब के नारों से’ इसके आगे उन्होंने लिखा है, ‘गृह मंत्रालय की तरफ़, राजनाथ सिंह डाउन-डाउन.’

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक प्रदर्शनकारी जब रेल भवन तक पहुंचे, तब उन्हें हिरासत में लिया गया. दिल्ली एंटी करप्शन ब्रांच के मुखिया एमके मीणा ने एएनआई से कहा, ‘यहां धारा 144 लगा दी गई है. प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेकर संसद मार्ग थाने लाया गया है.’

नजीब को ढूंढने के लिए जेएनयू के अलावा अलीगढ़ मु्स्लिम यूनिवर्सिटी में भी प्रदर्शन चल रहा है. हाल ही में गठित स्टूडेंट यूनियन ने यहां भी कैंपस में लंबा मार्च निकाला है.

TOPPOPULARRECENT