Saturday , December 16 2017

नबी करीमऐ ने इंसानी तारीख़ का रुख बदल दिया

हैदराबाद१६ अगस्त (रास्त) नबी करीम सिल्ली अल्लाह अलैहि-ओ-सल्लम ने इंसानी तारीख़ का रुख बदल दिया। क़ुरआन और हामिल क़ुरआन में गहिरा ताल्लुक़ होता ही।

हैदराबाद१६ अगस्त (रास्त) नबी करीम सिल्ली अल्लाह अलैहि-ओ-सल्लम ने इंसानी तारीख़ का रुख बदल दिया। क़ुरआन और हामिल क़ुरआन में गहिरा ताल्लुक़ होता ही।

क़ुरआन मजीद की बेहतरीन तफ़सीर सीरत उन्नबी ई ही। आप ई की बिअसत से क़बलदुनिया में ये बेहस जारी थी कि औरत में रूह और अक़ल होती भी है या नहीं? इस्लाम ने औरत की इज़्ज़त बढ़ाई। आप सिल्ली अल्लाह अलैहि-ओ-सल्लम ने इरशाद फ़रमाया कि माँ के क़दमों तले जन्नत ही।

इन ख़्यालात का इज़हार जनाब सय्यद सआदत अल्लाह हुसैनीरुकन मज्लिसे शूरा जमात-ए-इस्लामी हिंद नई दिल्ली ने मस्जिद अज़ीज़ ये मैं ताक़ रात के दौरान मर्द-ओ-ख़वातीन के बड़े इजतिमा को ख़िताब करते हुए किया जिस का एहतिमामजमात-ए-इस्लामी हिंद नामपली और इंतिज़ामी कमेटी मस्जिद अज़ीज़ ये ने किया था।

इजतिमा का आग़ाज़ जनाब मतीन अहमद ख़ान की तिलावत क़ुरआन मजीद-ओ-उर्दू तर्जुमानी से हुआ। अमीर मुक़ामी नामपली जनाब सय्यद सुलतान मुही उद्दीन तंज़ीमी सैक्रेटरी जनाब सय्यद अबदुल्लाह हुसैनी, जनाब महबूब फ़रीद नाज़िम शोबा तर्बीयत, अरकान शूरा नामपली और दीगर मोअज़्ज़िज़ीन शहर ने शरकतकी। जनाब सआदत अल्लाह ने बउनवान जिस ने गुबार राह को बख्शा फ़रोग़ वादी सेना ख़िताब करते हुए कहाकि आप ई की मय्यत और तर्बीयत से कई शख्सियतें चमक उठीं जैसे हज़रत अबूबकर सदीक़ओ, हज़रत उम्र फ़ारोक़ओ वग़ैरा जिस का एतराफ़ मीकल हार्ट, गांधी जी, डाक्टर अंबेडकर वग़ैरा कर चुके हैं।

जिन्हों ने तारीख़ के धारे को मोड़ दिया। जो पहले ऊंट चुराने वाले थे इंसानियतके रहबर-ओ-रहनुमा बन गई। जनाब अबदुर्रहीम सैक्रेटरी इंतिज़ामी कमेटी मस्जिद अज़ीज़ये मह्दी पटनम ने इजतिमा की कार्रवाई बहसन-ओ-ख़ूबी चलाई। ऐलानात और दुआ परइजतिमा के इख़तताम का ऐलान किया गया। बादअज़ां नमाज़ तहज्जुद बाजमाअत अदा की गई जिस में आमৃ अलमुस्लिमीन की कसीर तादाद ने शिरकत की।

TOPPOPULARRECENT