Wednesday , February 21 2018

नरेंद्र मोदी ने फ़सादाद से मुतास्सिरा मुज़फ़्फ़रनगर का दौरा क्यों नहीं किया?

बी जे पी के विज़ारते-उज़मा उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के हफ़्ते को किए गए दौरा-ए-पटना पर कांग्रेस ने शदीद तन्क़ीद की है। उनके दौरे और सिलसिलावार बम धमाकों के मुतासरीन से मुलाक़ात को बिलकुल्लिया सियासी मुहर्रिकात पर मबनी क़रार देते हुए

बी जे पी के विज़ारते-उज़मा उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के हफ़्ते को किए गए दौरा-ए-पटना पर कांग्रेस ने शदीद तन्क़ीद की है। उनके दौरे और सिलसिलावार बम धमाकों के मुतासरीन से मुलाक़ात को बिलकुल्लिया सियासी मुहर्रिकात पर मबनी क़रार देते हुए पार्टी के तर्जुमान राशिद अलवी ने चीफ मिनिस्टर गुजरात से इस्तिफ़सार किया कि उन्होंने मुज़फ़्फ़रनगर के मुतासरीन से मुलाक़ात क्यों नहीं की? गुज़िश्ता माह उत्तरप्रदेश के इस ज़िला में फ़िर्कावाराना तशद्दुद की वजह से 60 से ज़ाइद अफ़राद हलाक होगए थे।

उन्होंने कहा कि क्या नरेंद्र मोदी फ़िलवा क़े पटना धमाकों के मुतासरीन से इज़हार-ए-हमदर्दी के लिए गए थे? उन्होंने फिर मुज़फ़्फ़रनगर का दौरा क्यों नहीं किया? उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी को मुज़फ़्फ़रनगर फ़सादाद के बारे में बात करना भी गवारा नहीं। इस से साफ़ ज़ाहिर है कि इनका दौरा-ए-बिहार सिर्फ़ और सिर्फ़ सियासी मुहर्रिकात पर मबनी है।

इस के इलावा और कोई ताल्लुक़ नहीं है। उन्होंने कहा कि मुल्क के अवाम मोदी के इस दौरा से बख़ूबी वाक़िफ़ हैं और वो जानते हैं कि उन्होंने सियासी दौरा किया है, लेकिन इस तरह की सियासत बिलकुल नामुनासिब है।इस दौरान वज़ीर उमूर् ख़ारिजा सलमान ख़ूर्शीद ने भी नरेंद्र मोदी को तन्क़ीदों का निशाना बनाते हुए पूछा कि 27 अक्टूबर को पटना सिलसिला वार धमाकों के फ़ौरी बाद उन्होंने ये दौरा क्यों नहीं किया? उन्होंने मुतासरीन से मुलाक़ात के लिए इतना वक़्त क्यों लगाया? क्या नरेंद्र मोदी को अचानक उन से हमदर्दी होगई?

वो अब मुतासरीन को क्यों याद कररहे हैं? नरेंद्र मोदी ने पटना रैली के मुतासरीन से मुलाक़ात के लिए कल बिहार का दौरा किया था और कहा था कि इनका दुख दर्द बांटने के लिए वो यहां आए हैं। इन धमाकों में 6 अफ़राद हलाक होगए थे। मोदी ने महलोकेन् के विरसा को फी कस 5 लाख रुपये का चेक भी हवाला किया था।

उन्होंने दरअसल हुकूमत बिहार पर तन्क़ीद के मक़सद से एसा किया, क्योंकी चीफ मिनिस्टर नीतीश कुमार ने धमाकों के फ़ौरी बाद प्रेस कान्फ्रेंस में महलोकेन् के विरसा को फी कस 5 लाख रुपये एक्स गिरे शिया का ऐलान किया था। नरेंद्र मोदी के इस सियासी नवीत के दौरे पर बिहार की हुक्मराँ जमात जनतादल (यू) ने भी शदीद तन्क़ीद की है। नीतीश कुमार ने यहां तक कहा कि बाहर से जमा होरहा कचरा बिहार के अवाम बहुत जल्द साफ़ कर देंगे।

जनतादल (यू) ने नरेंद्र मोदी के इस दौरे को सियासी अग़राज़ पर मबनी क़रार दिया और कहा कि वो रियासत की फ़िर्कावाराना हम आहंगी को मुतास्सिर कररहे हैं। इस के बरअक्स बी जे पी ने धमाकों के बाद मुतासरीन से मुलाक़ात ना करने पर चीफ मिनिस्टर बिहार नितेश कुमार को तन्क़ीदों का निशाना बनाया है। पार्टी ने हुकूमत पर नरेंद्र मोदी की सिक्योरिटी को नजरअंदाज़ करने का इल्ज़ाम आइद किया और कहा कि इंटेलिजेंस इत्तिलाआत मिलने के बावजूद हुंकार रैली में सिक्योरिटी के ख़ातिरख़वाह इंतिज़ामात नहीं किए गए थे।

TOPPOPULARRECENT