Wednesday , September 26 2018

नरेंद्र मोदी पहलवान की तरह बोलते हैं : शिवानंद तेवारी

जनतादल (यू) क़ाइद शेवा नंद तेवारी ने आज एक अहम बयान देते हुए नरेंद्र मोदी को शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया।

जनतादल (यू) क़ाइद शेवा नंद तेवारी ने आज एक अहम बयान देते हुए नरेंद्र मोदी को शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया।

उन्होंने कहा कि आर्टीकल 370 के ताल्लुक़ से इज़हार करते हुए नरेंद्र मोदी ने वज़ीर-ए-आला कश्मीर उमर‌ अबदुल्लाह की बहन का तज़किरा करते हुए अपनी एहमियत को मज़ीद गिरा दिया है। तेवारी ने कहा कि अगर नरेंद्र मोदी को आर्टीकल 370 से मुताल्लिक़ इज़हार-ए-ख़्याल करना मक़सूद था तो वो उमर‌ अबदुल्लाह की बहन का तज़किरा किए बगै़र भी ऐसा करसकते थे।

ये एक इंतिहाई गिरी हुई हरकत थी। एक ऐसा क़ाइद जो वज़ीर-ए-आज़म बनने के अज़ाइम रखता है, उसे ऐसे घटिया अंदाज़ में बात नहीं करनी चाहिए। ऐसा महसूस होता है कि अपनी तक़रीरों के ज़रिया वो अवाम से अपील करने की बजाय ख़ुद अपनी ख़ुशनुदी में मसरूफ़ हैं। वो इस बात का ख़्याल नहीं रखते कि जो कुछ वो कह रहे हैं उसका अवाम पर क्या असर मुरत्तिब होगा।

इस तरह से उन्होंने आर्टीकल 370 और उमर‌ अबदुल्लाह की बहन का तज़किरा किया, वो इंतिहाई घना और नफ़रतअंगेज़ है। मोदी जिन नज़रियात के हामिल हैं और जिन का वो प्रोपगंडा कररहे हैं, वो बिलकुल ग़लत है। वो अपने बयान‌ जिस अंदाज़ में करते हैं, वो नाक़ाबिल-ए-क़बूल है। उनके पास ख़िताब के आदाब ही नहीं हैं। ऐसा लगता है कि जैसे कोई पहलवान बोल रहा हो।

उनका लहजा भी इंतिहाई जारिहाना होता है। याद रहे कि मोदी ने जम्मू में एक रैली के दौरान कहा था कि अगर उमर‌ अबदुल्लाह कश्मीर से बाहर शादी करते हैं (उन की दुल्हन कश्मीर की ना होतो) तो इसके बावजूद भी वो कश्मीर के शहरी बरक़रार रहेंगे लेकिन अगर उन की बहन सारा ऐसा करेंगी तो उन्हें कश्मीर की शहरियत से महरूम होना पड़ेगा।

क्या इस बयान को ख्वातीन के तईं इमतियाज़ी रवैया से ताबीर नहीं किया जाएगा। तेवारी ने पूछा उमर‌ अबदुल्लाह ने भी मोदी के इस अहमक़ाना सवाल का टोइटर पर जवाब तहरीर करते हुए कहा कि मोदी ने एक मख़सूस नुक्ता को समझाने केलिए मुझे और मेरी बहन को बतौर मिसाल इस्तिमाल किया लेकिन वो (मोदी) ये नहीं जानते कि इस में कोई सदाक़त नहीं है या फिर उन की मालूमात महदूद है।

मोदी ने जम्मू की ललकार रैली में जवाहर लाल नेहरू का भी तज़किरा किया था। उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू ने अपनी एक तक़रीर में कहा था कि मुस्तक़बिल में आर्टीकल 370 की एहमियत मांद पड़ जाएगी। उन्होंने कांग्रेस हुकूमत पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि ये कांग्रेस ही थी जिसने कश्मीर केलिए अलाहदा रियासत के बीज बोए लेकिन बी जे पी बरसर-ए-इक़तिदार आने के बाद जम्मू-ओ-कश्मीर हिंदुस्तान की सुपर रियासतों में से एक होगी।

TOPPOPULARRECENT