नर्सरी दाखिले के लिए निजी स्कूल का नया नियम, दो बच्चों वाले अभिभावकों को आवेदन करने से मना

नर्सरी दाखिले के लिए निजी स्कूल का नया नियम, दो बच्चों वाले अभिभावकों को  आवेदन करने से मना

दिल्ली में नर्सरी में दाख़िले हमेशा से विवादों में रहे हैं। नए-नए नियम और क़ानून माता-पिता के लिए परेशानी का सबब रहे हैं ऐसे में अब दिल्ली के एक बड़े स्कूल ने एक ऐसा नया नियम बनाया है जिसे माता पिता का काफ़ी परेशान होना तय है। निजी स्कूल ने दो बच्चों वाले अभिभावकों को नर्सरी दाखिले के लिए आवेदन करने से मना कर दिया है। यही नहीं यहां स्कूल में पढ़ाने वाली शिक्षक और इस पद के लिए आवेदन करने वालों के लिए भी यही शर्त है।

अगर उनके पास दो बच्चे हैं तो वह यहां शिक्षक पद पर काम नहीं कर सकते हैं। सलवान स्कूल समूह ने यह शर्त रखी है। सलवान की दो शाखाओं सलवान मांटेसरी और जीडी सलवान ने अपने नर्सरी दाखिला रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर यह शर्त रखी है। इससे अभिभावक परेशान हैं। इस स्कूल में 2 जनवरी से दाखिला प्रक्रिया के लिए आवेदन फॉर्म मिल रहे हैं। 

सलवान समूह के चेयरमैन सुशील सलवान का कहना है कि हम इस शर्त से पूरी तरह वाकिफ है। इस शर्त को रखने से पहले हमारे दिमाग में देश में बढ़ती जनसंख्या को लेकर है। अभिभावकों को कम बच्चे पैदा करने के लिए हम मोटिवेट कर रहे हैं।

स्कूल ने इस तरह की शर्त तब रखी है, जब शिक्षा निदेशालय ने नर्सरी दाखिले को लेकर इस तरह की शर्तों को लेकर कड़ा रुख अपनाया है। दिल्ली सरकार ने बीते वर्ष की नर्सरी दाखिले को लेकर स्कूलों की ओर से अभिभावकों के इंटरव्यू, उनके प्रोफेशन, उम्र, मौखिक परीक्षा समेत अन्य तरह की शर्तों को खत्म कर दिया है।

Top Stories