Saturday , December 16 2017

नलगोंडा में सूरत-ए-हाल पुरअमन ,पुलिस चौकसी बरक़रार

मामूली सड़क हादसे को लेकर पिछ्ले दो रोज़ से जारी शहर की कशीदा सूरत-ए-हाल आज मुकम्मल तौर पर पुरअमन रही। आई जी राजीव रतन ने अवाम ख़ाहिश की है कि फ़िर्कावाराना मुनाफ़िरत को बालाए ताक़ रखते हुए शहर की पुरअमन फ़िज़ा को बरक़रार रखें‍।

मामूली सड़क हादसे को लेकर पिछ्ले दो रोज़ से जारी शहर की कशीदा सूरत-ए-हाल आज मुकम्मल तौर पर पुरअमन रही। आई जी राजीव रतन ने अवाम ख़ाहिश की है कि फ़िर्कावाराना मुनाफ़िरत को बालाए ताक़ रखते हुए शहर की पुरअमन फ़िज़ा को बरक़रार रखें‍।

आई जी राजीव रतन ने वन टाव‌न पुलिस स्टेशन में अख़बारी नुमाइंदों को मुख़ातब करते हुए कहा कि बाअज़ अफ़राद इस मामूली वाक़िया को दूसरा रंग देने की कोशिश कररहे हैं। दो रोज़ से हनूमान-ओ-अप्पा स्वामियों ने क़ानून को हाथ में लेने की कोशिश की वजह ये नाख़ुशगवार वाक़ियात रौनुमा हुए।

में पुलिस की तरफ से ला ऐंड आर्डर पर फ़ौरी क़ाबू पा लिया गया है। उन्हों ने यलारीडी गोड़म के वाक़िये पर दरयाफ़त करने पर बताया कि 15 ता 20 अफ़राद रास्ता रोको एहतिजाज कररहे थे उन की निशानदेही करके मुक़द्दमात दर्ज किए जाऐंगे।

हैदराबाद रेंज डी आई जी नागी रेड्डी ने बताया कि दो दिनों से जारी कशीदा सूरत-ए-हाल मुकम्मल क़ाबू में है और हालात पुरअमन है। बाअज़ तंज़ीमों की तरफ से बंद की अपील के बावजूद शहर-ओ-ज़िला में कारोबार जारी है। यहां की अवाम अमन-ओ-यकजहती से रहने की तरफ़ हैं।

उन्होंने कहा कि भगतों की तरफ से अचानक एहतिजाज और रयालयों की वजह से शहर की पुरअमन फ़िज़ा मुकद्दर हुई थी। उन्हों ने बताया कि सड़क हादसा में ऑटो ड्राईवर भगत के माला टूटने के बावजूद दीखशा जारी है। गिरफ़्तार शुदगान में भी बाअज़ भगत हैं।

पुलिस उन की दीखशा को जारी रखने के तमाम इंतेज़ामात कररही है। उन्हों ने कहा कि पिछ्ले दो दिनों के वाक़ियात में जुमला 11 मुक़द्दमात दर्ज किए गए हैं और 46 अफ़राद को हिरासत में लिया गया है। बाअज़ हिरासत में लिए गए बेक़सूर अफ़राद की रिहाई अमल में लाई गई है।

अख़बारी नुमाइंदों के इस्तिफ़सार पर बताया कि जमहूरियत में धरना रास्ता रोको और बंद मनाने का हक़ है लेकिन क़ानून को हाथ में लेने की किसी भी इजाज़त नहीं रहती।

उन्होंने आई जी राजीव रतन पर हमले के वाक़िये को इत्तिफ़ाक़ी क़रार दिया और कहा कि इस में मुलव्वस अफ़राद की निशानदेही करके मुक़द्दमात दर्ज किए जाएंगे और तमाम वाक़ियात की मुकम्मल तहक़ीक़ात करवाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि रिया ली के दौरान परतशद्दुद कार्यवाईयों में मुलव्वस अफ़राद की निशानदेही करते हुए गिरफ़्तारी अमल में लाई जाएगी। उन्हों ने ज़िला बिलख़सूस नलगुनडा की अवाम से शहर में बहाली अमन के लिए पुलिस से तआवुन करने की ख़ाहिश की।

ज़िला मुहतमिम पुलिस नलगोंडा नवीन गोलाटी ने भी वन टाव‌न में अख़बारी नुमाइंदों को मुख़ातिब करते हुए बताया कि पुलिस की तरफ से ज़िला के तमाम हस्सास मुक़ामात पर पुलिस पिक़्टस मुतयन किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि अचानक हनूमान भक्तों-ओ-अप्पा स्वामियों के एहतिजाज की वजह सूरत-ए-हाल कशीदा होगई थी, लेकिन हालात आज मुकम्मल पुरअमन हैं।

उन्होंने बताया कि गिरफ़्तार शुदगान में 14 अप्पा भगतों को रहा करने से मुताल्लिक़ ग़ौर किया जा रहा है। अगर रहा करदिए जाने के बाद ज़रूरत पड़ने पर दुबारा तलब करलिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि शहर की हालात को मद्द-ए-नज़र रखते हुए इमतिनाई अहकाम की बर्ख़ास्तगी या बरक़रारी का इन्हिसार है। उन्हों ने बताया कि शहर की हालात के पेशे नज़र मोटरसीकल पर पीछे की नशिस्त पर सिर्फ़ ख़वातीन या बच्चों को बैठने की इजाज़त रहेगी।

नवीन गोलाटी ने कहा कि आज सुबह बंद को कामयाब बनाने के लिए स्वामियों की तरफ से रिया ली मुनज़्ज़म करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की तरफ से इजाज़त ना दिए जाने की वजहे रियाली को मंसूख़ करदी।

बंद के दौरान कोई नाख़ुशगवार वाक़िया पेश नहीं आया। आज बंद के दौरान तक़रीबन 100 एहितजाजी कारकुनों को गिरफ़्तार कर लिया जबकि 13 दिसमबर तक इमतिनाई अहकामात नाफ़िज़ रहेंगे।

TOPPOPULARRECENT