Tuesday , September 18 2018

नवाज़ शरीफ़ और वज़ीर-ए-दाख़िला में इख़तिलाफ़ात?

वज़ीर-ए- ज़म पाकिस्तान नवाज़ शरीफ़ के मुल्क के ताक़तवर वज़ीर-ए-दाख़िला निसार अली ख़ान से फ़ौज के चंद मीडीया ग्रुप और तालिबान के साथ मुज़ाकरात के सिलसिला में इख़तिलाफ़ात पैदा होचुके हैं।

वज़ीर-ए- ज़म पाकिस्तान नवाज़ शरीफ़ के मुल्क के ताक़तवर वज़ीर-ए-दाख़िला निसार अली ख़ान से फ़ौज के चंद मीडीया ग्रुप और तालिबान के साथ मुज़ाकरात के सिलसिला में इख़तिलाफ़ात पैदा होचुके हैं।

रोज़नामा डॉन की ख़बर के बमूजिब चौधरी निसार अली ख़ान ने हफ़तावार प्रैस कान्फ़्रैंस का सिलसिला भी तर्क कर दिया है और आजकल टी वी के स्क्रीन पर भी नज़र नहीं आरहे हैं।

कराची अर पोर्ट पर हमला की रात में भी इन्हें टी वी चैनल्स पर नहीं देखा गया। उन्हों ने नवाज़ शरीफ़ के साथ पार्लीयामेंट के इजलासों में रहना भी तर्क कर दिया है और पारलीमानी सरगर्मीयां भी बंद करचुके हैं।

बजट की पीशकशी के दिन भी वो क़ौमी असेंबली के इजलास में शरीक नहीं थे।
इस के बाद भी वज़ीर-ए-आज़म नवाज़ शरीफ़ दो मर्तबा पार्लीयामेंट के इजलास में आए लेकिन दोनों मर्तबा निसार अली ख़ान उन के साथ नहीं थे ।

पार्टी के एक और क़ाइद ने कहा कि वज़ीर-ए-दाख़िला वज़ीर-ए-आज़म के जेय्व टी वी और फ़ौजी इंतिज़ामीया के तनाज़ा से ग़लत अंदाज़ में निमटने की वजह से पार्टी क़ियादत उन से ख़ुश नहीं है।

TOPPOPULARRECENT