Saturday , September 22 2018

नहीं मिल रहा सरकारी मंसूबों का फ़ायदा

जमशेदपुर 22 अप्रैल : मशरिकी कालीमाटी पंचायत की करीब साढ़े पांच हजार की आबादी कई तरह की मसायल से दो-चार है।इस पंचायत के लोगों तक बुनियादी सहूलियात भी नहीं पहुंची हैं।

जमशेदपुर 22 अप्रैल : मशरिकी कालीमाटी पंचायत की करीब साढ़े पांच हजार की आबादी कई तरह की मसायल से दो-चार है।इस पंचायत के लोगों तक बुनियादी सहूलियात भी नहीं पहुंची हैं।

ज़्यादातर खानदान गरीब है और खास तौर मजदूरी कर ज़िन्दगी गुज़ारते हैं। तालीम और बेदारी की कमी है,जिसकी वजह से सरकारी सहूलियात का उन्हें फ़ायदा नहीं मिल पाता है।

46 को नहीं मिल रहा पेंशन
पंचायत की 46 जईफ और मर्दों को वृद्धावस्था पेंशन का फ़ायदा नहीं मिल पा रहा है। ब्लाक ऑफिस से यकीन मिलता है कि पेंशन की रकम उनके खाते में भेज दी जायेगी। पेंशन की आस लगाये 46 में से चार की मौत हो चुकी है। 1 अप्रैल 2011 को मशरिकी कालीमाटी के 75 लोगों का वृद्धापेंशन मंज़ूर हुआ था, उनमें से सिर्फ 29 लोगों को ही पेंशन मिलती है।

मुखिया भी इस मामले में बीडीओ से मिले, लेकिन कोई असर नहीं हुआ। पंचायत इलाके में सेहत की बेहतर सहूलियत भी नहीं हैं. सलगाझुड़ी में एक जेली सेहत मरकज़ है। जो महीने में एकाध दिन खुलता है। वह भी आधा या एक घंटे के लिए।

इन जगहों में है पानी की किल्लत
चापाकल नहीं होने की वजह से डोमपाड़ा, मिडिल स्कूल सोपोडेरा व बामनगोड़ा नाला के किनारे वाक़ेय नयी बस्ती के लोग पानी बहरान से दो-चार हैं। अभी तक एक भी चापाकल नहीं लगा है।

TOPPOPULARRECENT