Wednesday , July 18 2018

नहीं हुई थी शादी पर मौत होते ही सामने आईं तीन बीवियां

लरामपुर अस्पताल में तैनात वार्ड बॉय संतोष कुमार (32) की मंगलवार रात मौत हो गई। परिवारीजनों का दावा है कि वह अविवाहित था। लेकिन बृहस्पतिवार दोपहर को पोस्टमार्टम हाउस पर उसकी तीन पत्नियां पहुंची और शव पर हक जताने लगी। इसे देखकर परिवारीजन हतप्रभ रह गए। हाई वोल्टेज ड्रामा काफी देर तक चलता रहा। मामला हाथापाई तक पहुंचा तो पुलिसकर्मियों ने हस्तक्षेप कर संबंधित थाने में केस दर्ज कराने की बात कहकर भेज दिया।

एसओ वजीरगंज पंकज सिंह ने बताया कि नाका के रानीगंज निवासी संतोष कुमार बलरामपुर अस्पताल में वार्ड बॉय था। उसे मृतक आश्रित कोटे में नौकरी मिली थी। इसके बाद वह अस्पताल में स्थित सरकारी आवास में रह रहा था। मंगलवार रात को वह अस्पताल परिसर में बने पानी की टंकी के पास किसी काम से गया। लोगों ने उसे टंकी के पास ही बेहोशी में पड़े होने की सूचना दी।

पुलिस ने संतोष को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया, जहां देर रात उसकी मौत हो गई। शिनाख्त न होने के कारण पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजवा दिया। बुधवार दोपहर शव की शिनाख्त संतोष की बहन राधा व भाई भोला ने की। बृहस्पतिवार दोपहर को पोस्टमार्टम हाउस पर बहन और भाई के साथ कई रिश्तेदार मौजूद थे। इस बीच तीन युवतियों ने वहां पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया।

तीनों युवतियां संतोष को अपना पति बता रही थी। इसके बाद तीनों युवतियां आपस में ही उलझ गई। जब इसकी जानकारी बहन राधा और भाई भोला को हुई तो परिवारीजनों ने दावा किया कि संतोष की शादी नहीं हुई है तो अचानक पत्नी कहां से आ गई।

बहन का कहना था कि सभी युवतियां नौकरी के लालच में खुद को संतोष की पत्नी बता रही हैं। इसी बात को लेकर तीनों संतोष की बहन से भी उलझ गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को संबंधित थाने में जाकर केस दर्ज कराने को कहा। इसके बाद मामला शांत हुआ।

TOPPOPULARRECENT