नागरजुनासागर , जोराला प्रोजेक्ट्स की सतह-ए-आब में इज़ाफ़ा

नागरजुनासागर , जोराला प्रोजेक्ट्स की सतह-ए-आब में इज़ाफ़ा
Click for full image

हैदराबाद 16 सितंबर: रियासत तेलंगाना के साथ साथ पड़ोसी रियासत कर्नाटक और महाराष्ट्रा में पिछ्ले चंद दिनों से जारी बारिश के नतीजे में दरयाए कृष्णा और दरयाए गोदावरी में पानी के बहाव में ज़बरदस्त इज़ाफे के बाइस उन दरियाओं पर पाए जानेवाले प्रोजेक्ट्स की सतह-ए-आब में इज़ाफ़ा हो रहा है।

दरयाए कृष्णा पर पाए जानेवाले नागारजुनासागर प्रोजेक्ट में पानी का ज़ख़ीरा होने पर सतह-ए-आब में किसी क़दर इज़ाफ़ा हुआ है। ताहम फ़िलवक़्त नागारजुनासागर प्रोजेक्ट में इन फ़लू (पानी की आमद) 5 हज़ार कीवज़कस रहने पर एहतियाती तदाबीर के तहत तीन हज़ार कीवज़कस वाटर को ख़ारिज किया है (आउट फ़लू किया जा रहा है) महिकमा आबपाशी के बावसूक़ ज़राए ने ये बात बताई और कहा कि महबूबनगर में वाक़्ये जोराला प्रोजेक्ट में इन फ़लू (पानी की आमद) 141 हज़ार कीवज़कस रहने पर दूर अंदेशी के तहत एहतियाती तदाबीर इख़तियार करते हुए प्रोजेक्ट्स की सतह-ए-आब मुकम्मिल ना होने के बावजूद (15565) कीवज़कस (पानी ख़ारिज किया जा रहा है) वाटर आउट फ़लू किया जा रहा है।

Top Stories