Saturday , November 18 2017
Home / Maharashtra & Goa / नागरिकता और मतदान के अधिकार को समाप्त किया जाए

नागरिकता और मतदान के अधिकार को समाप्त किया जाए

मुंबई: भारत माता की जय कहने से इनकार पर मजलिसी नेता असद ओवैसी की आलोचना करते हुए शिवसेना ने आज कहा कि जो लोग यह नारा कहने से इनकार करते हैं कि उनकी नागरिकता रद्द किया जाना चाहिए और उनके वोट देने का हख़‌ छीन लिया जाना चाहिए।

शिवसेना ने मुख्यमंत्री महाराष्ट्र से यह भी पता चला है कि जब असद ओवैसी ने यह नारा कहने से इनकार कर दिया था तो उन्हें राज्य से बाहर जाने कैसे दिया गया। पार्टी प्रवक्ता सामना के एक संपादकीय में शिवसेना ने कहा कि हार्दिक‌ पटेल ने राष्ट्रीय ध्वज के अपमान करने की गलती की थी और उस पर देशद्रोह का आरोप लगाया गया।

वह अभी जेल में है। क्या असद ओवैसी भारत की उपेक्षा करते हुए देशद्रोह के दोषी नहीं हुए हैं? । संपादकीय में कहा गया है कि जो लोग यह नारा लगाने से इनकार करते हैं उनकी नागरिकता को रद्द करना और उनके वोट देने के अधिकार को छीन करने की जरूरत है। कहा गया है कि राज्य मे भाजपा के मुख्यमंत्री हैं और उन्हें यह जवाब देना चाहिए कि ओवैसी ने लातूर में मादर भारत का अपमान किया है और उन्हें राज्य से बाहर कैसे जाने दिया गया। सेना ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय(Minority Community) इसलिए पिछड़े है कि वह ओवैसी जैसे लोगों के विचारों का समर्थन करती है।

TOPPOPULARRECENT