Thursday , June 21 2018

नागा शोरिश पसंद ग्रुप, तशद्दुद और गै़रक़ानूनी सरगर्मीयों में मुलव्वस

नई दिल्ली, ०२ फरवरी (पी टी आई) तशद्दुद को हरगिज़ बर्दाश्त ना करने का वाज़िह पयाम देते हुए मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम ने इल्ज़ाम आइद किया कि नागा शोरिश पसंद ग्रुप (एन एस सी एन आई एम) अग़वा के इलावा दीगर गै़रक़ानूनी सरगर्मीयों

नई दिल्ली, ०२ फरवरी (पी टी आई) तशद्दुद को हरगिज़ बर्दाश्त ना करने का वाज़िह पयाम देते हुए मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम ने इल्ज़ाम आइद किया कि नागा शोरिश पसंद ग्रुप (एन एस सी एन आई एम) अग़वा के इलावा दीगर गै़रक़ानूनी सरगर्मीयों में मुलव्वस है।

ये ग्रुप एक तरफ़ हुकूमत से अमन मुज़ाकरात कर रहा है, दूसरी तरफ़ तशद्दुद में मुलव्वस है। हुकूमत से अमन मुज़ाकरात के बावजूद सलामती का ख़तरा बरक़रार है। पी चिदम़्बरम ने ये भी कहा कि स्कियोरटी फोर्सेस को मिनी पर मैं मुसलसल तैनात किया गया है ताकि इंतिख़ाबात वाली इस रियासत में इलैक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का तहफ़्फ़ुज़ किया जा सके। इस के इलावा ये स्कियोरटी इंतेख़ाबी अमला और उम्मीदवारों की सलामती की भी निगरानी कर रहा है।

नागा शोरिश पसंद ग्रुप हकूमत-ए-हिन्द से बातचीत में मसरूफ़ है। इस के मुसालहत कार भी हैं, लेकिन हक़ीक़त ये है कि नागा शोरिश पसंद ग्रुप के कैडरस दीगर तंज़ीमों से मिल कर अग़वा के वाक़ियात में मुलव्वस हैं। इन की जानिब से तशद्दुद भी बरपा किया जा रहा है। उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए नागा ग्रुप की जानिब से हालिया बरपा किए गए तशद्दुद की मुज़म्मत की और कहा कि एन एससी उन की क़ियादत इस बात की तरदीद कररही है कि ये तशद्दुद इस के कैडर ने किया है।

इन वाक़ियात में ज़्यादातर एन एससी का कैडर ही मुलव्वस है। हुकूमत के पास काफ़ी सबूत मौजूद हैं। इंटेलीजेंस ने जो रिपोर्ट दी है, इस से पता चलता है कि शोरिश पसंद ग्रुप के कैडर ही इन वाक़ियात में मुलव्वस हैं। ये तवक़्क़ो है कि मेरे ब्यान से नागा शोरिश पसंद ग्रुप को या किसी और ग्रुप को वाज़िह पयाम मिलेगा कि हम तशद्दुद को हरगिज़ बर्दाश्त नहीं करेंगे। मनीपुर के हालिया असेंबली इंतेख़ाबात के दौरान तशद्दुद का हवाला देते हुए चिदम़्बरम ने कहा कि उन्हें अफ़सोस है कि 28 जनवरी को राय दही के दिन मिनी पर के एक हलक़ा में नाख़ुशगवार वाक़ियात रौनुमा हुए, लेकिन याद रहे कि इस वाक़िया के इलावा जिस में 7 अफ़राद हलाक हुए थे, राय दही पुरअमन रही।

जब में ये सोचता हूँ कि आसाम राइफ़ल्ज़ के दो अफ़राद हलाक हुए हैं तो इस का मतलब ये हुआ कि मणि पर मैं मजमूई तौर पर पुरअमन राय दही हुई। मनीपुर के एक ज़िला चण्डल के एक पोलिंग स्टेशन में एक शख़्स ख़ुद को राय दहिंदा बताकर दाख़िल हुआ और अंधाधुंद फायरिंग की जिस में एक सी आर पी एफ़ जवान , 3 पोलिंग ओहदेदार और दो राय दहनदे हलाक हो गए।

वहां पर तैनात सी आर पी एफ़ के अमले ने जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग करने वाले को हलाक करदिया । चिदम़्बरम ने कहा कि मैं ये नहीं कह रहा हूँ कि मनिपुर में इंतेख़ाबात तशद्दुद से पाक रहे। उम्मीदवारों भी महफ़ूज़ रहे । मुझे ख़ुशी है कि स्कियोरटी फ़ोर्स अपने फ़राइज़ को बेहतर तौर पर अंजाम दे रही है।

TOPPOPULARRECENT