Thursday , December 14 2017

नादार लड़कीयों के शादी फ़ंड का अदम इस्तेमाल

रियासत में ग़रीब और नादार मुस्लिम लड़कीयों की शादी के लिए रियास्ती महकमा अक़लीययती बहबूद ख़ुसूसी फ़ंड रखता है। हुकूमत ने इस मक़सद के लिए 1.20 करोड़ रुपये मुख़तस किए हैं, जिस में से हर जोड़े को 25 हज़ार दिए जाते हैं लेकिन इजतिमाई शादीयों से मुस

रियासत में ग़रीब और नादार मुस्लिम लड़कीयों की शादी के लिए रियास्ती महकमा अक़लीययती बहबूद ख़ुसूसी फ़ंड रखता है। हुकूमत ने इस मक़सद के लिए 1.20 करोड़ रुपये मुख़तस किए हैं, जिस में से हर जोड़े को 25 हज़ार दिए जाते हैं लेकिन इजतिमाई शादीयों से मुसलमानों की दूरी के नतीजा में फ़ंड ख़र्च नहीं हो पा रहा है।

इस बात का इन्किशाफ़ जनाब उमर जलील सेक्रेट्री महकमा अक़लीययती बहबूद ने किया। इजलास में बाअज़ ख़्वातीन ने शौहरों के मज़ालिम की अलमनाक दास्तानें सुनाते हुए माहौल को ग़मगीन कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT