Monday , December 11 2017

नाना पाटेकर की एनजीओ ने किसानों की विधवाओं दान किये 12.75 लाख रुपये

image

एक्टर नाना पाटेकर की एनजीओ नाम फाउंडेशन ने जिले में कथित तौर पर पिछले साल आत्महत्या करने वाले सूखाग्रस्त किसानों के 85 परिवारों को Rs12.75 लाख का दान दिया है।

फसल खराब होने कर्ज के बोझ की वजह से खुदकशी करने वाले 85 किसान परिवारों में प्रत्येक परिवार 15,000 रुपए का चेक दिया गया है |

मालेगांव की एक नौजवान विधवा सुजाता बछाव ने कल हुए इस फंक्शन में अपनी परेशानियों के बारे में बात करते हुए बताया कि, उसके शौहर पर बहुत ज़्यादा क़र्ज़ हो जाने की वजह से खुदकशी कर ली थी जिसके बाद सुसराल और एक बेटी की ज़िम्मेदारी उसे ही निभानी पड़ती है और उसके पास आमदनी का कोई खास जरिया भी नहीं है, पाटेकर ने उसे मदद का आश्वासन दिया है |

हिंदी और मराठी के मशहूर एक्टर नाना पाटेकर ने लोगों से ऐसे परिवारों की मदद और उनके बच्चों की तालीम के लिए मदद की गुज़ारिश की है |

उन्होंने बताया कि “नाम” एक मेडिकल कार्ड की फैसिलिटी शुरू कर रहा है जिसके तहत इन लोगों को फ़्री मेडिकल सर्विस दी जाएगी |पाटेकर ने इस मामले में अस्पतालों से मदद करने का आग्रह किया है |

एमवीपी समाज के डॉ वसंतराव पवार मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल इस मौक़े पर इन लोगों के लिए फ़्री मेडिकल सर्विस देने की इच्छा ज़ाहिर की |

फाउंडेशन की भविष्य की योजनाओं पर बात करते हुए पाटेकर ने कहा कि राज्य में 350 किमी नदी को और गहरा करने और किसानों को प्राकृतिक आपदाओं की वजह से पैदा होने वाली परेशानियों को खत्म करने के लिए कई बड़े प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है |

मराठी एक्टर मकरन्द अनासपुरे, जो इस फाउन्डेशन के साथ जुड़ा हुए हैं, वह भी इस प्रोग्राम में मौजूद थे |

TOPPOPULARRECENT