Monday , June 25 2018

नाबालिग बेटी ने मां पर किया केस

दारुल हुकूमत की खातून हेल्प लाइन में सनीचर को 10 मामलों की सुनवाई हुई। इसमें तीन मामलों का शट आउट कर दिया गया। तमाम मामले रांची जिले के ओरमांझी, इटकी, नामकुम और गुमला के थे। सुनवाई के लिए लाये गये मामलों में घरेलू तशद्दुद की शिकायते

दारुल हुकूमत की खातून हेल्प लाइन में सनीचर को 10 मामलों की सुनवाई हुई। इसमें तीन मामलों का शट आउट कर दिया गया। तमाम मामले रांची जिले के ओरमांझी, इटकी, नामकुम और गुमला के थे। सुनवाई के लिए लाये गये मामलों में घरेलू तशद्दुद की शिकायतें ज़्यादा थीं। बचे हुए दीगर तमाम मामलों की सुनवाई 27 दिसंबर को होगी।

सुनवाई में रांची का एक अजीबोगरीब मामला निबटाया गया। इसमें नाबालिग बेटी ने अपनी वालिदा पर मामला दर्ज किया था। बेटी ने मां पर इल्ज़ाम लगाया कि उसकी वालिदा शराब पीकर अपने ही बच्चों के साथ मारपीट करती है। उसके वालिद का इंतेकाल हो चुकी है। काउंसलिंग के बाद मां ने खातून हेल्प लाइन को यकीन दिया कि अब वह अपने बच्चों के साथ अच्छा सुलूक करेगी। काम कर अपने बच्चों की हिफाजत करेगी। काउंसलिंग के दौरान मियां बीवी ने एक-दूसरे के साथ अच्छे से रहने की बात कही। खातून हेल्प लाइन में हर सनीचर को रियासत भर से लाये गये मामलों की सुनवाई होती है। हाइकोर्ट की एडवोकेट मंजुला उपाध्याय, काउंसलर सुष्मिता सेन और हेल्प लाइन की पूरी टीम के सामने जेरे गौर मामलों को सुना गया।

TOPPOPULARRECENT