Sunday , December 17 2017

नाबालिग लड़कियों को अरब के शेख से शादी करवानेवाले काजी अली अब्दुल्ला रफाई सहित तीन गिरफ्तार

हैदराबाद : हैदराबाद पुलिस ने शुक्रवार को 200 निकाह कराने वाले एक फर्जी काजी अली अब्दुल्ला रफाई को गिरफ्तार किया है। पुलिस को संदेह है कि रफाई के साथी मुंबई के चीफ काजी फरीद अहमद खान भी फर्जी तरीके से निकाह करा रहे थे। मामले में उनसे भी पूछताछ चल रही है।

पुलिस ने रफाई और फरीद सहित तीन काजी को गिरफ्तार किया है जिन्हें 2 दिन पुलिस हिरासत में रखा गया है। जांचकर्ताओं को पता चला है कि वक्त बोर्ड ने 2014 से रफाई को निकाह का फॉर्म जारी नहीं किया है। रफाई ने 200 नाबालिग लड़कियों और महिलाओं की अरब के नागरिकों से शादी कराई है।

एसीपी मोहम्मद ताजुद्दीन अहमद ने बताया की ‘जब हमने वक्फ बोर्ड से संपर्क किया तो पता चला कि उन्होंने 2014 से रफाई को एक भी फॉर्म जारी नहीं किया था। रफाई की काजी के रूप में नियुक्ति कुछ समय के लिए रोक दी गई थी, उसने हाई कोर्ट में चुनौती दी थी, जहां मामला लंबित है। उसे काजी की जिम्मेदारी निभाने की इजाजत नहीं थी, इस वजह से उसे वक्फ बोर्ड ने फॉर्म नहीं दिया था।’

रफाई के ऑफिस की तलाशी ली जानी है, चूंकि दफ्तर में रखे दस्तावेज अरबी हैं इसलिए उनकी पुष्टि के लिए हैदराबाद पुलिस ने वक्फ बोर्ड के नसीरुल कजाथ और दो अन्य कर्मचारियों की मदद ली है। पुलिसकर्मियों को संदेह है कि जब उसके पिता 2013 में गुजर गए थे, तब रफाई ने वक्फ बोर्ड के कर्मचारियों का भरोसा जीत लिया था । पिता की मौत के बाद रफाई को काजी के रूप में नियुक्ति की मंजूरी मिल गई थी। वह सिर्फ एक दिन के लिए काजी रहा।

पुलिस सूत्रों ने बताया, ‘हमें संदेह है कि उसने उसके पिता के वक्त जारी किए गए फॉर्म ही 200 जोड़ों को दिए हैं। फॉर्म लौटाने का कोई तरीका नहीं है, इसलिए उसके गलत इस्तेमाल की संभावना है।’
गौरतलब है कि हाल ही में हैदराबाद पुलिस ने एक गिरोह का भंडाफोड़ किया था जो नाबालिग लड़कियों की अरब के शेख से शादी करवाता था।

TOPPOPULARRECENT