Monday , December 11 2017

नामज़द ओहदों पर तक़र्रुत के लिए मुशावरत का आग़ाज़

हैदराबाद 14 अगस्त् चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने यौमे आज़ादी के बाद नामज़द ओहदों पर तक़र्रुत के लिए वुज़रा और क़ाइदीन से मुशावरत का आग़ाज़ कर दिया है।

बावसूक़ ज़राए ने बताया कि चीफ़ मिनिस्टर ने 12 कार्पोरेशंस और इदारों की निशानदेही की है जिन पर फ़ौरी तक़र्रुत अमल में लाए जा सकते हैं।

इस के अलावा मार्किट कमेटीयों और मजालिस मुक़ामी के तहत इदारों पर तक़र्रुत की तैयारीयां शुरू की गईं। चीफ़ मिनिस्टर ने अपने मुशीरों और बाज़ सीनीयर ओहदेदारों से इस मसले पर इबतिदाई मुशावरत मुकम्मिल करली है और बताया जाता हैके उन्होंने अहम ओहदों के लिए बाज़ नामों को क़तईयत दे दी ताहम अज़ला से पार्टी क़ाइदीन के नाम हासिल किए जा रहे हैं।

वुज़रा को हिदायत दी गई हैके वो अपने मुताल्लिक़ा ज़िला में सरगर्म पार्टी क़ाइदीन और कारकुनों की फ़हरिस्त पेश करें ताके उन्हें नामज़द ओहदों की फ़हरिस्त में शामिल किया जा सके। चीफ़ मिनिस्टर अगरचे यौमे आज़ादी के बाद तक़र्रुत का अमल शुरू करने के हक़ में हैं ताहम उनके क़रीबी हलक़ों ने मश्वरह दिया हैके ग्राम ज्योति प्रोग्राम के बाद ही तक़र्रुत का अमल शुरू किया जाना चाहीए।

ये प्रोग्राम 17 ता 23 अगस्त तेलंगाना के तमाम 10 अज़ला में जारी रहेगा। बताया जाता हैके 30 ता 40 एसे कारपोरेशन हैं जिनकी तक़सीम का अमल अभी मुकम्मिल नहीं हुआ जिसके बाइस उन पर तक़र्रुत में ताख़ीर हो सकती है। ज़राए के मुताबिक़ चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना की अहम मंदिरों से मुताल्लिक़ कमेटीयों पर भी जल्द तक़र्रुत के हक़ में हैं।

चीफ़ मिनिस्टर तवक़्क़ो हैके 10 सितंबर को हैदराबाद से रवाना होंगे और वो चाहते हैंके रवानगी से पहले असेंबली मीटिंग मुकम्मिल कर लिया जाये। इस तरह आइन्दा माह के पहले हफ़्ते में असेंबली मीटिंग की तलबी का इमकान है।

TOPPOPULARRECENT