Friday , January 19 2018

नारायणपेट में 12 दिसंबर को लोक अदालत

नारायणपेट 10 दिसंबर:नारायणपेट अदालत के अहाता में 12 दिसंबर बरोज़ हफ़्ता मेगा लोक अदालत का इनइक़ाद अमल में लाया जा रहा है। अवाम से इस लोक अदालत से अपने मुक़द्दमात के सिलसिले में रुजू हो कर इस्तेफ़ादे की ख़ाहिश की गई है।

तर गड्डा दशरथ रामिया चौधरी सिविल जज ने नारायणपेट में एक प्रेस कांफ्रेंस में ये इन्किशाफ़ किया। मेगा अदालत दरअसल फ़रीक़ैन की आपसी रजामंदी पर मबनी फ़ैसलों के लिए मुनाक़िद की जाती है।

उन्होंने कहा कि आपसी रजामंदी फ़ैसलों के लिए एक बेहतरीन हल है, जो अफ़राद अपने मुक़द्दमात का आपसी हल चाहते हैं वो अपने नाम 10 दिसंबर तक मुक़ामी पुलिस स्टेशन या अदालत के सुपरिन्टेन्डेन्ट के पास दर्ज करवाईं।

रवींद्र प्रसाद सर्किल इंस्पेक्टर पुलिस नारायणपेट ने बताया कि बहुत से मुक़द्दमात के फ़रीक़ैन वक़्ती ख़िदमात और दबाओ के ज़ेर-ए-असर अदालतों से रुजू होते हैं और बाद में अफ़सोस का इज़हार किया जाता है।

एसी मुआमलत और इस के हल के लिए मुक़द्दमात के फ़ौरी हल के लिए लोक मेगा अदालत एक सुनहरी मौक़ा है। हादसात में माज़ूरी, तलाक़, कमउमरी की चोरी, मामूली झगड़े वग़ैरा उस ज़मुरा में आते हैं। इस प्रेस कांफ्रेंस में मुहम्मद एजाज़ अहमद सुपरिन्टेन्डेन्ट अदालत, रामा लिंगा रेड्डी सब इंस्पेक्टर आफ़ पुलिस, सुहेल अहमद एडवोकेट-ओ-दुसरे मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT