Friday , December 15 2017

नालंदा में बारिश की वजह से शहर और गावों में बाढ़ की हालत

चार दिनों से रुक-रुक कर हो रही बारिश ने जिले के रिहायशियों की मुश्किलें बढ़ा दी है। शहरी और देहि इलाक़ों में सैलाब की हालत पैदा हो गई है और हर तरफ तबाही का मंजर दिख रहा है। चारों तरफ पानी ही पानी है। पंचाने, जिराईन, लोकाइन समेत तमाम नदि

चार दिनों से रुक-रुक कर हो रही बारिश ने जिले के रिहायशियों की मुश्किलें बढ़ा दी है। शहरी और देहि इलाक़ों में सैलाब की हालत पैदा हो गई है और हर तरफ तबाही का मंजर दिख रहा है। चारों तरफ पानी ही पानी है। पंचाने, जिराईन, लोकाइन समेत तमाम नदियों का पानी की सतह बढ़ जाने से इनमें उफान शुरू हो गया है और इन नदियों का पानी खेत-खलिहानों के साथ-साथ रिहायशी इलाकों मे भी घुस गया है। नदियों का तस्वीर देख कर लोग दहशत में हैं। वहीं बक्सर में भी गंगा का पानी की सतह फि घंटे एक से दो सेंटीमीटर की शरह से बढ़ने की इत्तिला से जिले में सैलाब की खदशा से दियरांचल के लोग सहम गए हैं।

मुसलसल बारिश से हालत बिगड़ने के आसार

दो मुक़ामात पर जमींदारी बांध और लिंक पथ पानी के बहाव में बह गया है। आस्थावान ब्लॉक मे जिराईन नदी भी उफन रही है। खेतों मे पानी भर जाने से किसानों की फिक्र बढ़ गई है। हिलसा ब्लॉक में जमींदारी बांध बर्बाद होने से लोकाईन नदी का पानी कई गावों में दाखिल कर गया है। हिलसा–चिकसौरा रोड पर आने जाने में रुकावट हो गया है। कई गावों का में सड़क से राब्ता टूट गया है। हालांकि अभी हालात बेकाबू नहीं हुई है लेकिन लोगों का मानना है कि बारिश होती रही तो हालात काफी बिगड़ सकते हैं।

जिला इंतजामिया भी पूरी हालात पर नजर

खेतों में लगी फसल के साथ-साथ काफी जायदाद का भी नुकसान हो सकता है। जिला इंतजामिया भी पूरी हालात पर नज़र रखे हुए हैं। डीएम बी कार्तिकेय की हिदायत पर डीसीएलआर मो. आफाक अहमद, आफत इंतजामिया ओहदेदार मणिभूषण किशोर समेत कई ओहदेदार मुतासिर इलाकों का दौरा कर रहें हैं।

TOPPOPULARRECENT