Tuesday , December 12 2017

नाक़िदीन सियासी बुज़दिल, मुख़ालिफ़ीन पर हसन रुहानी की तन्क़ीद

सदर ईरान हसन रुहानी ने आज अपने नाक़िदीन पर वसीउल बुनियाद तन्क़ीद की जो मग़रिबी ममालिक के साथ उन के रवाबित और न्यूक्लीयर मुआहिदा की कोशिश पर उन पर सियासी बुज़दिली और शरअंगेज़ी का इल्ज़ाम आइद करते हैं।

सदर ईरान हसन रुहानी ने आज अपने नाक़िदीन पर वसीउल बुनियाद तन्क़ीद की जो मग़रिबी ममालिक के साथ उन के रवाबित और न्यूक्लीयर मुआहिदा की कोशिश पर उन पर सियासी बुज़दिली और शरअंगेज़ी का इल्ज़ाम आइद करते हैं।

अपनी तक़रीर में जिसे रास्त नशर किया गया, हसन रुहानी ने पार्लीयामेंट के सख़्तगीर गिरोहों की मुज़म्मत करते हुए जो मुस्तक़िल तौर पर उन की मुख़ालिफ़त कर रहे हैं जबकि एक साल क़ब्ल उन्हों ने हैरानकुन तौर पर इंतिख़ाबी कामयाबी हासिल करते हुए सदर ईरान का ओहदा सँभाला था।

उन्हों ने अपने मुख़ालिफ़ीन से कहा कि इन में से चंद नारे बुलंद करते हैं, लेकिन दरहक़ीक़त वो सियासी बुज़दिल हैं, हम जैसे ही सौदेबाज़ी करने में लड़खड़ाने लगते हैं, वो जहन्नुम में चले जाते हैं ताकि ख़ुद को गर्म रख सकें। हसन रुहानी ने जो एक एतेदाल पसंद रहनुमा हैं, और अब तक जिन की मीआद सदारत मआशी और ख़ारिजी पालिसी से ज़्यादा समाजी इस्लाह पर मर्कूज़ रही है।

ईरान को बैरून मुल्क तीन जुनूनों का सामना है। उरांव फोबिया, इस्लामो फोबिया और शीया फोबिया लेकिन अंदरून मुल्क मुल्क को एन्टीनटी फोबिया का सामना है। इस्लामी जम्हूरीया ईरान का यूरेनियम अफ़ज़ूदगी प्रोग्राम तवील मुद्दती मुआहिदा की राह में सब से बड़ी रुकावट है।

TOPPOPULARRECENT