Monday , July 23 2018

निम्र-अल-निम्र दहशतगर्दी-मुजरिम थे : सऊदी अरब

नई दिल्ली : सनीचर के रोज़ निम्र अल निम्र को सज़ा-ए-मौत हुई लेकिन वो अकेले नहीं थे बल्कि 47 और लोगों को भी उसी रोज़ सज़ा-ए-मौत हुई, निम्र को कई पुलिस स्टेशन और कई अफ़सरों पर हमले का दोषी पाया गया था, सऊदी एम्बेसी ने जुमेरात के रोज़ एक बयान देते हुए कहा.

“सभी 47 लोग दहशतगर्दी-मुजरिम थे, ज़्यादातर का ताल्लुक़ अल-क़ायदा से था” एक बयान देते हुए एम्बेसी ने कहा.

एम्बेसी के मुताबिक़ सऊदी अरब का ये फ़ैसला दहशतगर्दी के ख़िलाफ़ उसके कड़े रुख़ को दिखाता है.

आगे कहा गया कि “निम्र-अल-निम्र और एक बड़े अल क़ायदा लीडर फ़ारिस अल शुवैल को भी सज़ाए मौत दी गयी.”

बयान भारतीय मीडिया में आई ख़बरों के बाद आया है, बयान में कहा गया है कि भारतीय मीडिया ने ग़लत मतलब निकाले हैं और ग़लत नतीजों पर पहुँच गयी है.

TOPPOPULARRECENT