Monday , December 11 2017

निम्स हॉस्पिटल में तिब्बी आलात की ख़रीदी में स्कैम

हैदराबाद 28 जुलाई:निम्स हॉस्पिटल में जदीद तिब्बी आलात की ख़रीदारी के स्कैम ने नया मोड़ इख़तियार कर लिया है। एंटी करप्शन डिपार्टमेंट ने इस मुक़द्दमे पर चार्ज शीट दाख़िल कर दी है।

बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ एसीबी ने 5 लोग इस केस के अहम मुल्ज़िम साबिक़ डायरेक्टर निम्स धर्मा राज के ख़िलाफ़ चार्ज शीट ख़ुसूसी अदालत में पेश की। बताया जाता है कि धर्मा राज के अलावा उस वक़्त के एडिशनल मेडिकल सुपरिन्टेन्डेन्ट मुकनद रेड्डी फाइनैंस कंट्रोलर श्रीधर के अलावा सूर्य प्रकाश रेड्डी और वीवेक खन्ना के ख़िलाफ़ चार्ज शीट दाख़िल की।

ज़राए के मुताबिक़ एसीबी ने टेक्नीकल कमेटी और बायो मेडिकल इंजीनियर्स् के अलावा मयार जांचने वाली कमेटी‍-ओ-दुसरे लोगों के बयानात भी कलमबंद किए हैं। याद रहे कि निम्स हॉस्पिटल का स्कैम हालिया अरसा में मंज़र-ए-आम पर आया था।

साल 2011-12 में निम्स हॉस्पिटल में बड़े पैमाने पर जारी धुँदलीयाँ मंज़र पर आएं कि निम्स हॉस्पिटल में ग़ैर ज़रूरी तौर पर ज़रूरत से ज़्यादा मिक़दार में जदीद तिब्बी आलात की ख़रीदारी की गई और उन आलात की ख़रीदारी में मयारी जांच नहीं की। और ना ही एहतियात से काम लिया गया बल्के मन-मानी ख़रीदारी की गई।

इस सारे मुआमले की असल वजह सेंट्रल विजिलेंस कमीशन की किसी भी सिफ़ारिश का पास-ओ-लिहाज़ नहीं रखा गया। बताया जाता है कि एसीबी ने साल 2015 में निम्स के इस स्कैम पर केस दर्ज किया था और अब चार्ज शीट दाख़िल कर दी।

TOPPOPULARRECENT