Saturday , December 16 2017

निर्भय क्रूज़ मिसाईल सही निशाना पर वार करने में नाकाम

बालासोर, 13 मार्च: ( पी टी आई ) हिंदूस्तान का पहला देसी साख़्ता सुपरसोनिक क्रूज़ मिज़ाईल/ मिसाईल निर्भय आज अपनी पहली तजुर्बाती परवाज़ के दौरान दरमियानी रास्ता में मुक़र्ररा ख़त परवाज़ से मुनहरिफ़ हो जाने के सबब मुक़र्ररा निशाना पर वार करने म

बालासोर, 13 मार्च: ( पी टी आई ) हिंदूस्तान का पहला देसी साख़्ता सुपरसोनिक क्रूज़ मिज़ाईल/ मिसाईल निर्भय आज अपनी पहली तजुर्बाती परवाज़ के दौरान दरमियानी रास्ता में मुक़र्ररा ख़त परवाज़ से मुनहरिफ़ हो जाने के सबब मुक़र्ररा निशाना पर वार करने में नाकाम हो गया ताहम डी आर डी ओ ने कहा है कि ये मिज़ाईल अपने मिशन के बुनियादी मक़ासिद को पूरा करने में कामयाब रहा और दरमियानी रास्ता में नाकाम होने से क़ब्ल चंद तजुर्बात पर इत्मीनान बख़्श मुज़ाहिरा किया ।

ओडिशा के चांदीपुर में वाकेय् ला काम्प्लेक्स से दिन के 11 बजकर 50 मिनट पर निर्भय को कामयाबी के साथ दाग़ा गया जिस ने अपने बुनियादी मक़ासिद की कामयाबी के साथ मुकम्मल किया । डी आर डी ओ के तर्जुमान रवी गुप्ता ने सहाफ़ती आलामीया में कहा कि तक़रीबन आधे रास्ता तक सही सिम्त गुज़रने के बाद ये क्रूज़ मीज़ाईल अपने मुक़र्ररा रास्ता से हट गया बादअज़ां साहिल की सलामती को यक़ीनी बनाने के लिए बाक़ी परवाज़ रोक दी गई ।

डी आर डी ओ के ज़राए ने कहा कि ज़मीनी सतह पर वार करने वाले सुपरसोनिक क्रूज़ मिज़ाईल ज़मीन ,समुंद्र और फ़िज़ा से दागे़ जाने की सलाहीयत की हामिल है । ज़राए ने मज़ीद कहा कि निर्भय में अतराफ़ घूमने की बेहतरीन सलाहीयत है इलावा अज़ीं बेहतर गिरफ्त-ओ-रहनुमाई ,सही निशाना पर वार के मुआमला में आली सलाहीयत और निगरानी-ओ-जासूसी के बेहतरीन क़द-ओ-ख़ाल हैं ।

डी आर डी ओ के बैंगलोर में वाकेय् लेबोरेट्री (ए डी ई ) ने निर्भय मिज़ाईल तैयार की है । समझा जाता है कि ये मिज़ाईल तक़रीबन 1500 किलो मीटर तक वार करसकता है । हिंदूस्तान के पास ब्रह्मोस जैसी देसी साख़्ता मिज़ाईल टेक्नोलाजी ( तकनीक) मौजूद है ।

TOPPOPULARRECENT