Monday , January 22 2018

निसाबी किताब में परनब मुकर्जी मुल्क के 14 वें सदर जमहूरीया (राष्ट्रपति)

मुल्क में सदारती इंतिख़ाबात ( राष्ट्रपति चुनाव) हनूज़ ( अभी) मुनाक़िद ( आयोजित) नहीं हुए हैं लेकिन गोंडवाना यूनीवर्सिटी ने यू पी ए उम्मीदवार परनब मुकर्जी को हाल ही में शाय शूदा निसाबी किताब में मुल्क के 14 वें सदर जमहूरीया ( राष्ट्रपति)

मुल्क में सदारती इंतिख़ाबात ( राष्ट्रपति चुनाव) हनूज़ ( अभी) मुनाक़िद ( आयोजित) नहीं हुए हैं लेकिन गोंडवाना यूनीवर्सिटी ने यू पी ए उम्मीदवार परनब मुकर्जी को हाल ही में शाय शूदा निसाबी किताब में मुल्क के 14 वें सदर जमहूरीया ( राष्ट्रपति) के तौर पर पेश किया है ।

डेमोक्रेसी इन इंडिया नामी निसाबी किताब को बी ए (पालीटीकल साईंस ) के तलबा ( छात्रों) के लिए मुख़तस (prescribed) किया गया है । नई क़ायम शूदा यूनीवर्सिटी के जारीया तालीमी साल के लिए निसाबी किताब का ताय्युन अमल में आया है । किताब के बाब चहारुम के सफ़ा नंबर 84 ( ‍Page number 84 under chapter 4 of the book) पर मर्कज़ी आमिला के उनवान से मुल्क के सदर जमहूरीया की एक फ़हरिस्त ( List) पेश की गई है जिस में परनब मुकर्जी को मुल्क के 14 वें सदर जमहूरीया के तौर पर दिखाया गया है ।

यहां इस बात का तज़किरा भी ज़रूरी है कि मज़कूरा ( उक़्त)निसाबी किताब गोंडवाना यूनीवर्सिटी के डिपार्टमेंट आफ़ सोश्यल साइंस के डीन और पोलीटिक्ल साईंस के 40 लेक्चर्रस की मौजूदगी में सिर्फ दो रोज़ क़बल इजराई (released) अमल में आई थी । याद रहे कि यूनीवर्सिटी के बोर्ड आफ़ स्टडीज़ के सदर नशीन संजय गोरे और पोलीटिक्ल साईंस के एक स्कालर मधूकर मज़कूरा ( उक़्त) किताब के मुशतर्का मुसन्निफ़ीन (Authors of the Book) हैं।

इस सिलसिला में योनियो सिटी हुक्काम से राबिता क़ायम ना हो सका । जैसा कि क़ारईन (श्रोता) भी जानते हैं कि सदर जमहूरीया के इंतिख़ाब ( राष्ट्रपति चुनाव) के लिए 19 जुलाई को रूटिंग मुक़र्रर है जहां यू पी ए के उम्मीदवार परनब मुकर्जी को बी जे पी की ताईद ( समर्थन देने) वाले उम्मीदवार पी ए संगमा का सामना है ।

TOPPOPULARRECENT