Monday , July 16 2018

नीतीश का अक्सरियत मिलना तय

पटना 19 जून : बिहार असेंबली में नीतीश कुमार का अक्सरियत मिलना तय माना जा रहा है। उन्हें आज़ाद असेंबली रुक्न के साथ-साथ कांग्रेस का भी हिमायत मिलेगा।

पटना 19 जून : बिहार असेंबली में नीतीश कुमार का अक्सरियत मिलना तय माना जा रहा है। उन्हें आज़ाद असेंबली रुक्न के साथ-साथ कांग्रेस का भी हिमायत मिलेगा।

काबिले ज़िक्र है कि जदयू के भाजपा से अलग होने के बाद नीतीश कुमार अपना अक्सरियत साबित करने के लिए बुध को बिहार असेंबली के कुह्सुसी सेशन में एतेमाद वोट हासिल करेंगे। एवान के लीडर के तौर में कुमार एतमाद वोट हासिल करने के लिए तजवीज पेश करेंगे। इसके बाद तजवीज पर बहस होगी और जरुरत हुयी तो वोट का तकसीम कराया जाएगा।17 साल बाद इत्तेहाद की साथी भाजपा से अलग हो जाने के बाद भी असेंबली रुक्न की तादाद को देखते हुए नीतीश कुमार हुकूमत को कोई खतरा नहीं दिख रहा है।

243 रुक्न असेंबली में जदयू के असेंबली सदर समेत 118 रुक्न हैं जबकि भाजपा के 91, राजद के 22, कांग्रेस के चार और लोजपा और भाकपा के एक एक रुक्न हैं वहीं छह असेंबली आज़ाद रुक्न हैं। जदयू को अक्सरियत साबित करने की खातिर जरुरी 122 का अदाद व शुमार हासिल करने के लिए महज चार असेंबली रुक्न की जरुरत है। पार्टी को पहले ही चार आज़ाद असेंबली रुक्न का हिमायत हासिल हो गया है। चारों असेंबली रुक्न पीर के दिन जदयू की एक बैठक में मौजूद थे। बैठक में पार्टी सदर शरद यादव भी मौजूद थे।

एवान में भाजपा असेंबली रुक्न को ओपोजिशन पर बैठाने की तैयारी की जा रही है। कुमार ने भाजपा के 11 वजरा को बर्खास्त करने के बाद गवर्नर डी वाई पाटिल से इतवार को मुलाकात की थी और उनसे असेंबली का खुसूसी सेशन मुनाक्किद करने का दरख्वास्त किया था।

बाकी दो आज़ाद असेंबली रुक्न में से एक सिकटा के दिलीप वर्मा ने कहा था कि वह भाजपा का साथ देंगे और जदयू के खिलाफ वोटिंग करेंगे क्योंकि ‘‘देश को आज नरेंद्र मोदी की जरुरत है.’’एक और आज़ाद असेंबली रुक्न ज्योति रश्मि ने अभी तक कोई फैसला नहीं किया है। रोहतास जिले में डेहरी से असेंबली रुक्न ज्योति के शौहर और साबिक़ असेंबली रुक्न प्रदीप जोशी ने कहा कि अगर हुकूमत शराब के कारोबार पर रोक लगाती है तो ज्योति हुकूमत के हक में वोटिंग करेंगी। राजद ने जदयू के खिलाफ वोटिंग करने का फैसला किया है। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने मंगल को यहां सहफियों से कहा कि एतमाद वोट के वक़्त उनकी पार्टी हुकूमत के खिलाफ वोटिंग करेगी।

11 से 2 बजे तक तजवीज पर बहस

असेंबली के सदर उदय नारायण चौधरी ने कहा कि तजवीज पर बहस के लिए 11 बजे से दोपहर दो बजे तक का वक़्त मुक़र्रर है। उन्होंने कहा कि जरुरत होने पर एवान की मुद्दत में तौसिह किया जा सकता है। चौधरी ने कहा कि एवान की कार्यवाही का दूरदर्शन और असेंबली के वेबसाइट पर बराहे राश्त नशर किया जाएगा ताकि मुल्क और दुनियां के लोग इस अहम वाकिया को देख सके। उन्होंने तमाम आरकिन से इस जम्हूरियत निजाम को मजबूत करने में तावुन देने की भी दरख्वास्त की।

TOPPOPULARRECENT