Monday , December 18 2017

नीतीश की हालत तिलचट्टे के तरह : लालू

आप सब चेत जाइए। फिरकापरस्त ताकतों से दूर रहिए। हमारे राज में दंगा नहीं होता था। अब हर जगह दंगा हो रहा है। मुल्क खतरे में है। इसकी हिफाजत के लिए नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमारसे दूर रहें।

आप सब चेत जाइए। फिरकापरस्त ताकतों से दूर रहिए। हमारे राज में दंगा नहीं होता था। अब हर जगह दंगा हो रहा है। मुल्क खतरे में है। इसकी हिफाजत के लिए नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमारसे दूर रहें।

ये बातें राजद सरबराह लालू प्रसाद ने कहीं। वे पीर की दोपहर नगर के महाराजा स्टेडियम में अवामी इजलास को खिताब कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नीतीश की हालत तो तिलचट्टे की तरह हो गई है, जो तवा में छटपटा रहा है। वहीं, नरेंद्र मोदी आवा में ही भुला गए हैं।
“नीतीश हमरे में के हउवन, हमरे बिलईया हमरे से म्याऊं। हमरा के भैंस ना पटकलस त इ सब का पटकिह सन। हम जेसीबी हईं, रउआ हमार ताकत हई, अउरी ताकत दे दीं, ताकि मुखालिफत के मटिया हम कोड़ के एने-ओने फेंक दीं। आडवाणी के रथ हमही रोकले रहनी दोसरा केहू में ताकत ना रहे।“ उन्होंने कहा कि लालू को हटाने के लिए भाजपा और जदयू ने बेमेल शादी किया था। दोनों पार्टियों के इश्क़ का रंग कुछ दिनों में ही दिख गया और दोनों में डाइवोर्स हो गया। लालू ने वोटरों को रिझाते हुए कहा कि जेल में किस्मत के लोग जाते हैं। जिसपर खुदा की करम होती है, वही जेल जाता है। मुझ पर चारा खा जाने का इल्ज़ाम लगाया। तमाम जात के पसमांदा तबके के लोगों को समेटते हुए लालू ने कहा कि मुल्क के मौजूदगी की हिफाजत करनी है, तो राजद-कांग्रेस इत्तिहाद का हाथ मजबूत करें ताकि फिरकापरस्ती का जो खतरा मुल्क पर मंडरा रहा है उसे रोका जा सके।

लालू ने रघुनाथ झा को जीताने की दरख्वास्त किया। मौके पर शंभु तिवारी, रामप्रसाद यादव, कलाम जौहरी, विनय शाही, मुन्ना त्यागी, विनोद आर्य, परवेज आलम वगैरह मौजूद थे। मोतिहारी के केसरिया में लालू प्रसाद ने कहा कि वे इंतिख़ाब नहीं लड़ रहे, तो क्या हुआ उनका अखाड़ा इंतिख़ाब लड़ रहा है। बस मुखालिफत को पटखनी देना बाकी है। अपने खिताब के दौरान उन्होंने नीतीश और नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। हालांकि, उन्होंने पार्टी उम्मीदवारी का एलान नहीं किया।

TOPPOPULARRECENT