Tuesday , November 21 2017
Home / Bihar News / नीतीश कैबिनेट में 28 वज़ीर शामिल, सिद्दीकी को खजाना, विजेंद्र को तूअनाई वज़ारत

नीतीश कैबिनेट में 28 वज़ीर शामिल, सिद्दीकी को खजाना, विजेंद्र को तूअनाई वज़ारत

पटना : मुल्क भर के भाजपा मुखालिफत लीडरों की मौजूदगी में नीतीश कुमार ने जुमा को पांचवीं बार वजीरे आला ओहदे की हल्फबरदारी ली। तारीख़ी गांधी मैदान में खुले मंच पर गवर्नर रामनाथ कोविंद ने उन्हें ओहदे की हलफबरदारी दिलायी। नीतीश कुमार के साथ कुल 28 काबिना वज़ीर ने भी हलफबरदारी ली। इनमें जदयू व राजद से 12-12 और कांग्रेस से चार वज़ीर शामिल हैं। राजद सदर लालू प्रसाद और साबिक़ वजीरे आला राबड़ी देवी के दोनों एमएलए बेटे तेजप्रताप और तेजस्वी यादव को भी काबीना वज़ीर के तौर में हलफबरदारी दिलायी गयी। तेजस्वी यादव को नायब वजीरे आला बनाया गया है। उन्होंने नीतीश कुमार के बाद दूसरे नंबर पर हलफबरदारी ली।

तीसरे नबंर पर लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने हलफबरदारी ली। इसके बाद राजद के सीनियर लीडर अब्दुल बारी सिद्दीकी को गवर्नर ने हलफबरदारी दिलायी।

हलफबरदारी तकरीब के फौरन बाद वजीरे आला नीतीश कुमार ने 1, अणे मार्ग पर दूसरे रियासतों से आये मेहमानों को चाय पार्टी दी। इस मौके पर नए वज़ीरों को भी मदउ किया गया। हलफबरदारी तकरीब में लालू प्रसाद पूरा कुनबा मौजूद था। वजीरे आला नीतीश कुमार के बेटे समेत उनके अहले ख्नाना को भी डी एरिया में बिठाया गया था।

नीतीश कुमार के काबीना में जातिगत फोर्मूले का ख्याल रखा गया है। सबसे ज़्यादा यादव जाति के सात वज़ीर बनाये गये हैं। मुसलिम वज़ीरों की तादाद चार है। सीएम समेत कुर्मी जाति के दो वज़ीर हैं, जबकि कुशवाहा जाति से तीन वज़ीर बने हैं। इंतेहाई पसमानदा तबके से चार (केवट-1, धानुक-1,क्योट-1 व नोनिया-1) व एससीटी जाति से पांच (पासी-2, रविदास-2 व पासवान -1) वज़ीर बनाये गये हैं। अगड़ी जातियों से चार वज़ीर (राजपूत-2, भूमिहार-1 व ब्राह्मण -1) बने हैं।

नीतीश के काबीना में सिर्फ 20 जिलों काे नुमायंदगी मिला है। 18 जिलों से कोई वज़ीर नहीं है। इनमें चार वे भी जिले हैं, जहां एसेम्बली में भाजपा का सफाया हो गया। इन जिलों में कैमूर भी शामिल है, जहां की चारों सीटों पर भाजपा जीती है। भागलपुर जिले की सभी सात सीटें महागंठबंधन ने जीती हैं, लेकिन वहां से एक भी एमएलए को कैबिनेट में जगह नहीं मिली। पटना जिले से भी कोई वज़ीर नहीं बना।

इन जिलों से एक भी वज़ीर नहीं

पटना, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, अररिया, शिवहर, कटिहार, गोपालगंज, सीवान, खगड़िया, भागलपुर, बांका, लखीसराय, भोजपुर, अरवल, औरंगाबाद, नवादा, कैमूर, िकशनगंज

 

 

TOPPOPULARRECENT