Friday , December 15 2017

नीतीश को ‘आप’ का साथ

पटना : बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार और दिल्ली के वजीरे आला अरविंद केजरीवाल बुध को पहली बार किसी अवामी मंच पर एक साथ नजर आये। बिहार सम्मान तकरीब में दोनों ने एक दूसरे का मदद करने के साथ ही मरकज़ी हुकूमत की पॉलिसियों को जम कर कोसा। दिल्ली में आम आदमी पार्टी को पूरी अकसरियत दिलाने में बिहािरयों के सराकत की तारीफ करते हुए नीतीश कुमार ने कहा जो दिल्ली का मूड है, वही मुल्क का मूड है।

दिल्ली का मूड मुल्क ने देखा अब बिहार का मूड देिखए। वहीं, केजरीवाल ने बिहार के वजीरे आला के आने की दावत को कुबूल करते हुए कहा कि नीतीश जी, मुझे जब भी बुलायेंगे, मैं बिहार जाऊंगा। उन्होंने कहा कि एक साल में ही वजीरे आजम नरेंद्र मोदी पर मुल्क का भरोसा टूटने लगा है। भाजपा जिस तरह की अल्फ़ाज़ इस्तेमाल कर रही है, बिहार में भी उसका हाल दिल्ली जैसा ही होगा।

बिहार सम्मान समारोह का इंकाद दिल्ली हुकूमत के मैथिली-भोजपुरी अकादमी आर्ट कल्चर और लैंगवेज़ स्यन्स ने मुनक्कीद किया था। तकरीब में आर्ट, कल्चर, डॉक्टर वगैरह के शोबे में शिराकत करनेवाले बिहारियों को एज़ाज करने के साथ ही पूर्वांचल से ताल्लुक रखनेवाले दिल्ली के एमएलए को भी एज़ाज किया गया।

नीतीश कुमार ने बिहार की रिवायत और शानदार तारीख को याद करते हुए वजीरे आजम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने आर्यभट, बुद्ध, महावीर, सम्राट अशोक, गुरु गोविंद सिंह, जेपी, नालंदा, वैशाली, चंपारण सत्याग्रह वगैरह को याद करते हुए पीएम को याद दिलाया कि बिहार के डीएनए में कोई खराबी नहीं है। अगर उन्हें लगता है तो डीएनए की जांच के लिए जो सैंपल भेजे जा रहे हैं, उनकी जांच करा कर पता करें। वजीरे आला ने वजीरे आजम की तरफ से बिहार को सवा लाख करोड़ रुपये का खुसुसि पैकेज दिये जाने की एलान पर तंज कसते हुए कहा कि इसका कोई भी बजटीय फराहमी नहीं किया गया है, पुरानी मंसूबों को शमूलियत कर सवा लाख करोड़ का पैकेज बनाया गया है।

TOPPOPULARRECENT