Saturday , July 21 2018

नीतीश मंत्रीमंडल में जगह नहीं मिलने से नाराज़ हुए मांझी, कहा- ‘पहले हमारा हक़ था’

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विश्वास मत हासिल करने के एक दिन बाद आज 27 मंत्रियों को शामिल करते हुए अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया। राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने इन मंत्रियों को राजभवन के राजेन्द्र मंडपम में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

इन 27 मंत्रियों में जनता दल यूनाइटेड (जद-यू) के 14, भाजपा के 12 और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) का एक मंत्री शामिल है। वहीं बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने से नाराज हैं।

हम पार्टी के अध्यक्ष मांझी ने नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल में राम विलास पासवान के भाई पशुपति नाथ पारस को शामिल किए जाने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार में सबसे पहले हमारा हक था, हमें कमजोर समझकर सताया गया है।

मांझी ने कहा कि जो पहलवान है उसको घी, दूध, मलाई दिया जा रहा है, लेकिन जो कमजोर है, उसे कुछ भी नहीं दिया गया। आखिर एक ही गठबंधन में दो पार्टियों के साथ अलग-अलग रवैया क्यों अपनाया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT