Friday , June 22 2018

नीतीश सेकुलर नेता : के रहमान खान

पटना 27 जून : मर्क़जी अकलियत बहबूद वजीर के रहमान खान ने वजीर ए आला नीतीश कुमार की जम कर तारीफ करते हुए सेकुलर लीडर बताया। उन्होंने कहा कि हम सब मानते हैं कि वे अच्छे लीडर हैं। रियासत में अकलियतों से जुड़ी मंसूबों की सीएम के साथ जुमेरा

पटना 27 जून : मर्क़जी अकलियत बहबूद वजीर के रहमान खान ने वजीर ए आला नीतीश कुमार की जम कर तारीफ करते हुए सेकुलर लीडर बताया। उन्होंने कहा कि हम सब मानते हैं कि वे अच्छे लीडर हैं। रियासत में अकलियतों से जुड़ी मंसूबों की सीएम के साथ जुमेरात को जायज़ा की जायेगी। भाजपा के कौमी सदर राजनाथ सिंह पहले कहते थे कि अकलियतों की लफ्ज से नफरत है। अब मजबूरी में मुसलिम कन्वेंशन में शामिल हो रहे हैं।

बुध को शुबे की कांग्रेस दफ्तर सदाकत आश्रम में सहफियों से बातचीत में उन्होंने कहा कि अकलियतों के फलाह के लिए चलायी जा रही तमाम मंसूबों की मर्क़ज खुद मॉनीटरिंग करायेगा। इसके लिए तमाम रियासतों में लाइजनिंग ऑफिसर बहाल किये जायेंगे। बेहतर काम करनेवाले एनजीओ के जरिये से भी मॉनीटरिंग करायी जायेगी। 11वीं पंच साला मंसूबों में बिहार के सात अज़ला में अकलियत बहबूद के लिए एमएसडीपी मंसूबा में 500 करोड़ की रक़म दी गयी थी। अब 12वीं पंचसाला मंसूबा में रक़म दोगुनी कर एक हजार करोड़ कर दी गयी है।

सात अज़ला से दायरा बढ़ कर 20 जिले होंगे। तालीम पर ज्यादा जोर होगा। अकलियतों के लिए पॉलिटेक्निक, आइटीआइ, स्कूल व स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम के लिए भी इस रकम को खर्च किया जा सकेगा। उन्होंने क़बुल किया कि अकलियतों तक सही तरीके से प्रोग्राम और मनसूबे नहीं पहुंच पा रही हैं।

सच्चर कमेटी की 66 मशवरों को क़बुल कर लागू किया गया है, जबकि तीन को क़बुल नहीं किया गया है। कांग्रेस के शुबे के सदर अशोक चौधरी ने कहा कि वजीर ए आला नीतीश कुमार से एमएसडीपी मंसूबा की रक़म खर्च करने के लिए कहा जाये, ताकि अकलियतों को इसका फायदा मिल सके। मौके पर मीडिया इंचार्ज प्रेमचंद्र मिश्र, नजमुल हसन, सरवत जहां फातमा, कौकब कादरी वसी अख्तर, प्रवीण कुमार सिंह व डॉ विनोद शर्मा समेत दीगर लीडर मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT