Monday , July 23 2018

नीस आतंकी हमला, और ‘अमीन’ का दर्द

पेरिस: पुलिस रमज़ान में भी शराब पीने वाले ट्रक हमलावर के साथियों की तलाश में है। लोग एकजुटता के लिए आज भी घटनास्थल पर जमा हो रहे हैं। मृतकों में कई मुसलमान भी शामिल है। क्या इस हमले का इस्लाम से कोई संबंध है?

नीस के एक स्थानीय अखबार का शीर्षक था, ” अंतहीन दर्द ”। इस दर्द को नीस के लोगों के चेहरों पर आज भी देखा जा सकता है। गुरुवार की रात एक हमलावर ने एक भीड़ पर सफेद रंग का ट्रक चढ़ा दिया था, जिससे कम से कम चौरासी लोग मारे गए दो सौ सात घायल हो गए थे।

घटनास्थल पर अमीन बेद्सा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, कि  ” इस हमले में मैं और मेरे घर वाले बाल-बाल बचे। ” अमीन ने अपनी तीन साल की बेटी को उठा रखा है, ” हम सभी ने अपनी आंखों से देखा कि किस तरह एक दूसरा बच्चा ट्रक के नीचे कुचला गया। ” बहते आँसुओं के साथ अमीन का कहना था, ” यह एक बहुत भयानक दृश्य था। ”

अमीन ने मिडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आतंकवाद का इस्लाम से कोई लेना देना नहीं। अमीन ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर घटनास्थल पर एक बैनर भी प्रदर्शित किया है, जिस पर लिखा है, ” सभी के लिए प्यार, नफरत किसी से भी नहीं। ”

TOPPOPULARRECENT