Wednesday , September 26 2018

नेताओं और जन प्रतिनिधियों पर दर्ज 20 हजार लोगों के मुकदमों को वापस लेगी योगी सरकार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार नेताओं को नए साल का गिफ्ट देने जा रही है। योगी सरकार जल्द ही नेताओं और जन प्रतिनिधियों पर दर्ज वैसे मुकदमों को वापस लेने की तैयारी कर रही है, जो उनपर आंदोलन और धरना प्रदर्शन के दौरान किए गए थे।

सरकार ने करीब 20 हजार ऐसे लोगों की लिस्ट तैयार की है, जिनपर राजनैतिक चरित्र के मुकदमे वर्षों से दर्ज हैं और उन्हें बेवजह अदालतों के चक्कर काटने पड़ते हैं।

ऐसे मामलों को हटाने के संकेत योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा सत्र के दौरान यूपीकोका बिल पर बहस के समय ही दिए थे। उम्मीद जताई जा रही है कि अगले सत्र में योगी सरकार तकरीबन 20 हजार लोगों पर दर्ज राजनीति मुकदमों को वापस ले सकती है।

प्रशासनिक स्तर पर इस प्रस्ताव की तैयारी भी पूरी की जा चुकी है। विपक्ष इसकी मुखालफत कर रहा है, मगर सरकार का दावा है कि ऐसे 20 हजार लोगों में सभी दलों के लोग शामिल हैं, जिन पर किसी ना किसी धरना प्रदर्शन या आंदोलनों के वक्त के मुकदमे हैं और मुकदमे जारी रहने से उन्हें कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने पढ़ रहे हैं।

सरकार का मानना है कि 20 हजार लोगों को राहत देने से राजनीति में स्वच्छता आएगी क्योंकि हटाए जाने वाले दर्ज मुकदमे सिर्फ और सिर्फ राजनीतिक होंगे। गंभीर और आपराधिक केस के मुकदमे नहीं हटाए जाएंगे।

TOPPOPULARRECENT