Sunday , July 22 2018

नेहरु के बाद, पाठ्यक्रम से RTI एक्ट को भी हटाया राजस्थान सरकार ने

जयपुर: राजस्थान राज्य सरकार की और से संशोधित पाठ्यक्रम से सूचना का अधिकार आरटीआई एक्ट को हटाने का मामला सामने आया है |

कक्षा आठ की पुस्तक में इस कानून के बारे में एक पाठ था। इसमें बताया गया था कि कैसे आरटीआई का आंदोलन चालू हुआ और कितने संघर्ष के बाद यह कानून लागू हो पाया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आरटीआई एक्ट रुणा रॉय और निखिल डे के नेतृत्व में मजदूर किसान शक्ति संगठन के अन्य सदस्यों द्वारा द्वारा लोगों के अधिकार के लिए किये गये राष्ट्रव्यापी आंदोलन(NCPRI) का नतीजा है | गौरतलब है कि राजस्थान के लोगों आरटीआई आंदोलन में एक बड़ी भूमिका निभाई थी।

संगठन का कहना है कि, ये आन्दोलन पूरे देश के लिए गर्व की बात है, आरटीआई एक्ट दुनिया भर में पाठ्यक्रम में शामिल किया जा रहा है, वहीं यह राजस्थान की पाठ्यपुस्तकों से हटा दिया गया है … ये बेहद दुर्भाग्य की बात है |

इस आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले संगठन मजदूर किसान शक्ति संगठन से जुड़े निखिल डे तथा संगठन के अन्य सदस्यों की ओर से मुख्य सचिव को पत्र भेजा गया है जिसमें मांग की गयी है कि इस बदलाव को रद्द किया जाए और संशोधित किताबें जारी कर आरटीआई कानून के बारे में लोगों को विस्तार से जानकारी दी जाए |

TOPPOPULARRECENT