नेहरू ने गाय की खिदमत कर रहे ख़ादिमों पर चलवायी थीं गोलियां : बाबा रामदेव

नेहरू ने गाय की खिदमत कर रहे ख़ादिमों पर चलवायी थीं गोलियां : बाबा रामदेव
Click for full image

रांची : झारखंड रियासती गोशाला संघ की वर्किंग कमेटी की इजलास में बाबा रामदेव ने कहा कि फसाद के जरिये कोई काम नहीं होना चाहिए़। साल 1966 में नेहरू ने गाय की खिदमत करने वालों पर गोलियां चलवायीं, जिसमें सैकड़ों खादिम की जान चली गयी़ं। आज उसी का बददुआ इस खानदान को लग गया़। मेरी ज़िंदगी ही दूसरों की खिदमत के लिए है़। गाय माँ की खिदमत में ज़िंदगी लगा दिया है़। आज हमारे यहां गोशाला में एक हजार से ज़्यादा गायें है़ं। उन्होंने कहा कि हम झारखंड को मॉडल गोशाला देंगे, जिससे हरेक माह का 15-20 लाख रुपये की कमाई होगी़।

कृषि वज़ीर रणधीर सिंह ने कहा कि रियासत की गोशालाओं को डेवलोप करना हुकूमत की तरजीह है़ हुकूमत गाय की खिदमत में सब्सिडी भी दे रही है़। गोशालाओं को रजिस्टर करने की अमल भी जल्द पूरी की जायेगी़। मौके पर चार गोशालाओं को चेक दिया गया़। यह चेक ज़ीराअत वज़ीर रणधीर सिंह व गोसेवा कमीशन के सेक्रेटरी ओपी पांडेय की तरफ से तक़सीम किये गये। इसमें मधुपुर गोशाला को 21.56 लाख, टाटानगर गोशाला को 16.26 लाख रुपये दिये गये। इसके अलावा जुगसलाई गोशाला को 7.48 लाख, कोडरमा गोशाला को 81.91 हजार रुपये का चेक दिया गया़।

Top Stories